इलाहाबाद (जेएनएन)। एलएलबी के छात्र दिलीप सरोज को पीटकर मारे जाने का मामला तूल पकड़ गया है। हत्या के विरोध में सोमवार को छात्रों का आंदोलन उग्र हो गया। विरोध प्रदर्शन, डीएम का घेराव करने के बाद आक्रोशित छात्रों ने सिटी बस फूंक दी। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर छात्रों ने कई जगह हंगामा किया। एडीसी कालेज बंद रहा। इलाहाबाद विश्वविद्यालय समेत अन्य डिग्री कालेजों के छात्रों ने कैंडल मार्च निकाला। बवाल के मद्देनजर कई इलाकों में पुलिस और आरएएफ तैनात कर दी गई है। उधर, पुलिस टीमें मुख्य आरोपी टीटीई विजय शंकर सिंह की तलाश में गाजीपुर और आजमगढ़ में दबिश दे रही हैं। पुलिस ने सोमवार को विजय शंकर सिंह के साथी ज्ञान प्रकाश अवस्थी और ड्राइवर रामदीन मौर्या को गिरफ्तार कर लिया। मामले पर सपा, कांग्रेस, बसपा और आप नेताओं ने शहर में विरोध प्रदर्शन किया। 

प्रतापगढ़ के हथिगवां थाना क्षेत्र के भुलसा गांव के रहने वाले दलित छात्र दिलीप सरोज को शुक्रवार रात शहर के कटरा इलाके में दबंगों ने राड और ईंट से बेरहमी से पीट दिया था। शनिवार को उसकी मौत हो गई थी। जघन्य वारदात की रिकार्डिंग सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। छात्र की हत्या के बाद शहर में आंदोलन शुरू हो गया। सोमवार को विरोध प्रदर्शन ने उग्र रूप धारण कर लिया। भारी संख्या में जमा छात्र, वकीलों और दलित संगठन के लोगों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर डीएम आवास घेर लिया। दो घंटे डीएम को बाहर नहीं निकलने दिया। डीएम ने ज्ञापन लेकर आश्वासन दिया तो आक्रोशित प्रदर्शनकारी शांत हुए। दोपहर में गुस्साए छात्रों ने बैंक रोड पर रोडवेज की सिटी बस से सवारी उतार तोडफ़ोड़ के बाद आग लगा दी।

आइजी रमित शर्मा और एसएसपी आकाश कुलहरि ने पुलिस व आरएएफ लगाकर स्थिति संभाली। एसएसपी आकाश कुलहरि के मुताबिक, मुख्य आरोपी विजय शंकर सिंह के साथी ज्ञान प्रकाश अवस्थी पुत्र आरके अवस्थी निवासी बेली रोड इलाहाबाद को गिरफ्तार कर वारदात में इस्तेमाल फारच्यूनर कार बरामद कर ली गई है। इसके अलावा विजय शंकर सिंह के ड्राइवर रामदीन मौर्य निवासी कूड़ेभार, सुल्तानपुर को गिरफ्तार कर लिया गया है। सुल्तानपुर निवासी व गाजीपुर में तैनात टीटीई विजय शंकर सिंह की तलाश में दो टीमें गाजीपुर और सुल्तानपुर में दबिश दे रही हैं।

इधर, बस फूंकने पर अज्ञात छात्रों के खिलाफ कर्नलगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। वहीं बसपा के प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल सोमवार को छात्र दिलीप सरोज के पैतृक गांव प्रतापगढ़ के भुलसा पहुंचा और परिजनों को सांत्वना दिया। उन्होंने कहा कि हत्या, लूट से पूरा प्रदेश धधक रहा है। चारों ओर जंगल राज है। बसपा ने सोमवार को मामले को विधानसभा में उठाया और कल भी उठाएगी।

इस हत्या के मामले में अभी तक मुख्य अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। उसकी गिरफ्तारी को लेकर समाजवादी छात्रसभा और आईसा के छात्रों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एसएसपी दफ्तर तक जुलूस निकाला। इस दौरान छात्रों ने एसएसपी दफ्तर का घेरावकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। छात्रों ने मृतक के परिवार के लोगों को मुआवजा देने के साथ ही आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की । 

एसएसपी ने प्रदर्शनकारियों को सभी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करने का आश्वासन दिया। माना जा रहा है कि हत्यारोपी के गिरफ्तार ड्राइवर को आज दिन में ही मीडिया के सामने पेश किया जायेगा। पुलिस ने प्रतापगढ़ निवासी दलित छात्र दिलीप सरोज की मौत के मामले में चार लोगों को आरोपी बनाया गया है। इनमें से वेटर मुन्ना सिंह चौहान को गिरफ्तार कर लिया गया है।

छात्रों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन के दौरान जिलाधिकारी को उनके घर में ही घेर लिया। छात्र उनको घेरने के बाद लगातार दिलीप सरोज के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे है।उधर सीएमपी डिग्री कॉलेज से मृतक छात्र दिनेश सरोज न्याय दिलाने के लिए जुलूस निकालते छात्रों ने कालेज के गेट पर प्रदेश सरकार का पुतला दहन कर दिया।

इलाहाबाद के कर्नलगंज थाना क्षेत्र में रेस्टोरेंट मे खाने के विवाद के बाद शुक्रवार रात कुछ दबंगों ने एलएलबी के छात्र की जमकर पिटाई कर दी थी। जिसके बाद रेस्टोररेंट के कर्मचारियों ने बुरी तरह से घायल छात्र को इलाज के लिए हास्पिटल में भर्ती करवाया था। कोमा में गए छात्र दिलीप की कल मौत हो गई।

इलाहाबाद के एडीसी के छात्र दिलीप की हत्या शुक्रवार रात कर दी गई थी। उसी के विरोध मे छात्रों ने सोमवार को सीएमपी डिग्री कॉलेज से मृतक छात्र दिलीप सरोज को न्याय दिलाने के लिए जुलूस निकाला। इससे पहले सपा छात्र सभा के पदाधिकारियों ने सीएमपी डिग्री कॉलेज के गेट पर प्रदेश सरकार का पुतला दहन किया।

छात्र लगातार दिलीप सरोज के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे है। इस दौरान लक्ष्मी टाकीज चौराहा के निकट (बैंक रोड) अराजकतत्वों ने बस में आग लगाई।

दलित छात्र की हत्या पर मायावती आक्रोशित

इलाहाबाद में प्रतापगढ़ निवासी दलित छात्र की हत्या से बसपा सुप्रीमो मायावती तीखे तेवर में हैं। उन्होंने इस मुद्दे पर व्यापक रणनीति तैयार की है। आज दोपहर करीब तीन बजे बसपा प्रदेशाध्यक्ष रामअचल राजभर समेत कई मंडल कोआर्डिनेटरों का प्रतिनिधिमंडल बसपा सुप्रीमो के निर्देश पर मृत छात्र के गांव पहुंच रहा हैं।  

Posted By: Dharmendra Pandey