इलाहाबाद : स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के मोड़ पर गुरुवार की देर रात शॉट पुट (गोला फेंक) के नेशनल खिलाड़ी अश्वनी यादव (20) को गोली मार दी गई। अश्वनी तमिलनाडु में आयोजित गोला फेंक के नेशनल गेम को खेलकर वापस लौट रहे थे। स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के मोड़ पर बाइक सवार बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया। उनके साथ नेशनल महिला खिलाड़ी पिंकी रावत भी थीं। पिंकी ने एक बदमाश को पकड़ लिया। उनका हौसला देखकर बाइक छोड़कर बदमाश फरार हो गए।

अश्रि्वनी यादव और पिंकी देर रात तमिलनाडु से पुरुषोत्तम एक्सप्रेस पर सवार होकर इलाहाबाद जंक्शन पर उतरे थे। वहां से रिक्शे पर सवार होकर घर जाने लगे। रात करीब बारह बजे वह पन्ना लाल रोड पर स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के मोड़ पर पहुंचे। इसी दौरान काले रंग की बाइक से तीन युवक वहां पहुंच गए। युवकों ने असलहा के बल पर रिक्शा रुकवा दिया। इसके बाद अश्वनी यादव को गोली मार दी। चूंकि दोनों खिलाड़ी थे इसलिए भिड़ गए। पिंकी ने एक बदमाश को दबोच लिया तो तीनों उनसे जूझने लगे। जब पिंकी उनपर भारी पड़ने लगीं तो वह छूटकर भागने लगे। बदमाश अपनी बाइक भी छोड़ गए। पीठ में गोली लगने से जख्मी अश्वनी को स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह मूल रूप से फैजाबाद के रहने वाले हैं। यहां स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के पास रहते हैं। पिंकी मेडिकल कालेज चौराहे के पास की रहने वाली हैं। उधर खबर पाकर सीओ आलोक मिश्र, इंस्पेक्टर जार्जटाउन निशिकांत राय और इंस्पेक्टर कर्नलगंज सत्येंद्र सिंह पहुंच गए। पिंकी का कहना है कि हमलावर मुंह पर रुमाल बांधे थे। हो सकता है कि लूट की कोशिश में बदमाशों ने गोली चलाई हो।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप