प्रयागराज, जागरण संवाददाता। विश्व जन कल्याण, कोरोना महामारी से निजात एवं मनोकामना की पूर्ति के लिए प्रयागराज में अनंत पार्थिव शिवलिंग निर्माण महायज्ञ हो रहा है। श्री कृपासिंधु हनुमान (काले हनुमान) मंदिर त्रिवेणी बाध पर भक्तों ने पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण कर भगवान भोलेनाथ से आशीर्वाद मांगा। हल्‍दी और चंदन से शिवजी का अभिषेक कर पूजन-अर्चन किया गया।

नैतिक विकास शोध संस्थान सेवा ट्रस्ट प्रयाग की ओर से अनंत पार्थिव शिवलिंग निर्माण महायज्ञ किया जा रहा है। गौरवमयी संतों के आशीर्वाद एवं सानिध्य में श्रद्धालु लगातार पूजन कर रहे हैं। मुख्य अतिथि के रूप में जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी घनश्यामाचार्य महाराज व विशिष्ट अतिथि रुद्रराजित राम दुबे रहे। मुख्य यजमान संस्था के संस्थापक अध्यक्ष पं. श्याम सूरत पांडेय ने सपत्नीक भगवान भोलेनाथ का हल्दी चंदन से जलाभिषेक किया। यज्ञ स्थल पर शिवपुराण की कथा कहते हुए आचार्य पं. पवन देव ने कहा कि हल्दी चंदन भगवान शिव को अति प्रिय है। इस दिन जो भी भक्तगण अपने हाथों से शिवलिंग का निर्माण कर हल्दी चंदन से अभिषेक करते हैं। उनकी सभी मनोकामना पूरी होती है।

संस्था के प्रमुख संरक्षक फूलचंद्र दुबे ने भक्तों से यज्ञ में भागेदारी का आह्वान किया। अभिषेक आरती में मुख्य रूप से प्रमुख संरक्षक फूलचन्द्र दुबे, बीके पांडेय, राजनाथ तिवारी, राजेंद्र तिवारी दुकानजी, महासचिव सत्य प्रकाश पांडेय, सुधीर द्विवेदी, शिवा त्रिपाठी पूर्व पार्षद एवं वरिष्ठ नेता समाजवादी पार्टी, आशा पांडेय, ओमानंद जी महाराज, योगिराज देवरहा जंगल बाबा, श्रवण दुबे, धर्मेन्द्र गिरी, प्रभाकर मिश्र बनकटा आदि मौजूद रहे।

Edited By: Brijesh Srivastava