प्रयागराज, जेएनएन। डीजल और पेट्रोल में हुई मूल्य वृद्धि को लेकर समाजवादी पार्टी ने प्रयागराज में आवाज उठाई है। कार्यकर्ताओं ने इसे जनता की कमर तोड़ने वाला बताया है। कहा गया कि महंगाई बेलगाम हो चुकी है। खाद्य पदार्थों के दाम तो पहले ही आसमान छू रहे हैं और अब डीजल-पेट्रोल के दाम में वृद्धि होने से लोगों के सामने भारी संकट खड़ा हो गया है।

सपा पदाधिकारियों ने कहा- वादा खिलाफी कर रही सरकार

सपा पदाधिकारियाें ने कहा क‍ि पेट्रोल जहां 100 रुपये के करीब पहुंच गया है, वहीं डीजल भी लगभग 90 रुपये प्रति लीटर तक आ गया है। ऐसे में लोगों को वाहनों से चलना मुश्किल हो रहा है। केंद्र और प्रदेश सरकार ने डीजल-पेट्रोल के दाम को कम करने का वादा किया था, लेकिन लगातार इसके दाम में बढ़ोतरी हो रही है।

सरसों तेल के मूल्‍य वृद्धि पर भी सपाइयों ने आक्रोश जताया

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि सरसों तेल के दाम पर आग लगी है। अभी कुछ माह पहले जो सरसों तेल 130-140 रुपये में था, अब वह 190 रुपये पहुंच गया है। सपा के वरिष्ठ नेता नंदलाल निषाद उर्फ नंदा का कहना है कि इसका सीधा असर रसोई पर पड़ा है। लोगों का सब्जी बनाना तक मुश्किल हो गया है।

माल भाड़े के दाम में होगी वृद्धि

सपा व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष दुर्गा प्रसाद गुप्ता और प्रदेश सचिव विजय गुप्ता ने कहा कि डीजल और पेट्रोल के दाम में हुई बढ़ोतरी का सीधा असर माल भाड़े के ढुलाई पर पड़ेगा। ट्रकों से आने और जाने वाले माल पर भाड़ा अधिक हो जाएगा। इस कारण व्यापारी भी सामानों के दाम में वृद्धि करेंगे, जिससे जनता प्रभावित होगी। इसलिए केंद्र सरकार को चाहिए कि वह डीजल और पेट्रोल के दाम तो तत्काल कम करे, जिससे लोगों को राहत मिल सके।

Edited By: Brijesh Srivastava