प्रयागराज, जेएनएन। संगम तट स्थित किले को सेना से खाली कराए जाने के मामले में राज्यसभा सदस्य कुंवर रेवती रमण सिंह ने भाजपा सरकार पर सीधा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि सरकार इलाहाबाद का नाम बदल चुकी है, अब इसका अस्तित्व ही मिटाने पर आमादा है। 508 बेस के कर्मचारी-अधिकारी संघ और इंडियन ऑयल के कर्मचारियों ने सांसद से मिलकर अपनी समस्या बताई। रेवती रमण सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार प्रयागराज को खोखला कर रही है।

बोले राज्यसभा सदस्य, संगम नगरी के अस्तित्व से किया जा रहा खिलवाड़

राज्यसभा सदस्य रेवती रमण सिंह ने कहा कि सरकार संगम नगरी के अस्तित्व से खिलवाड़ कर रही है। अधिकतर बड़े विभागों के मुख्यालय यहां से शिफ्ट करने की गुपचुप योजना चल रही है। कहा कि पुलिस मुख्यालय को भी शिफ्ट किया जा रहा है। अब इंडियन ऑयल टर्मिनल को यहां से चुनार शिफ्ट करने की कवायद हो रही है। उन्होंने कहा कि यदि झलवा में घनी आबादी होने के कारण इंडियन ऑयल टर्मिनल को शिफ्ट करना जरूरी है तो लोहगरा बारा में रिफाइनरी के लिए अधिग्रहीत जमीन पर इसे शिफ्ट कर दिया जाए। 

सेना को हटाया गया तो परेड की भूमि पर अवैध कब्जा हो सकता है : विनय

सपा जिला उपाध्यक्ष विनय कुशवाहा ने कहा कि किले और उसके आसपास की जमीन से सेना को हटाया गया तो परेड की जमीन पर अवैध कब्जा हो सकता है। इससे कुंभ मेले की भव्यता कम हो जाएगी। उन्होंने कहा कि इन विपरीत परिस्थितियों को न आने देने के लिए राज्यसभा सदस्य की अगुवाई में सड़क से संसद तक लड़ाई लड़ी जाएगी।  

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस