प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में एक रिटायर्ड शिक्षक ने आत्‍महत्‍या कर लिया। मंगलवार की सुबह शिक्षक ने धूमनगंज थाना क्षेत्र के टीपी नगर इलाके में चार मंजिले फ्लैट से कूदकर अपनी जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तहकीकात की तो आत्महत्या की वजह पता चली। परिवार के सदस्‍यों ने पुलिस को बताया कि उनके आत्‍मघाती कदम उठाने के पीछे बीमारी वजह थी। फिलहाल पुलिस इस मामले की बारीकी से जांच-पड़ताल कर रही है।

धूमनगंज के पारस ग्रीन अपार्टमेंट में हुई घटना

टीपी नगर मोहल्ले में पारस ग्रीन अपार्टमेंट है। अपार्टमेंट के चौथे तल पर रिटायर शिक्षक 64 वर्षीय राधेश्याम भारतीय अपने परिवार के साथ रहते थे। बताया जाता है कि उनके सीने में अक्‍सर जलन होती थी और कुछ दूसरी बीमारियों ने भी उन्‍हें घेर रखा था। मंगलवार सुबह करीब 10 बजे राधेश्‍याम ने फ्लैट की बालकनी पर पहुंचे और फिर वहीं से नीचे कूद गए। जमीन पर गिरने से उनके सिर में गंभीर चोट आई। अचानक हुई इस घटना से ग्रीन अपार्टमेंट में खलबली मच गई। जुटे लोग आनन-फानन में लहूलुहान हालत में राधेश्‍याम को अस्पताल ले गए, जहां डाक्टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्‍थल पर छानबीन की।

घरवालों ने पुलिस से कहा कि बीमारी से परेशान थे राधेश्‍याम

इंस्पेक्टर धूमनगंज तारकेश्वर राय का कहना है कि घरवालों ने बताया है कि राधेश्याम बीमारी से परेशान थे। संभवत इसी के चलते उन्होंने खुदकुशी की है। उन्‍होंने कहा कि घरवालों की ओर से तहरीर मिलने पर और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मासूम बेटी की गला घोटकर हत्‍या, आरोपित पिता गिरफ्तार

प्रयागराज के मेजा थाना इलाके में कलयुगी बाप की कारस्‍तानी ने सभी को चौंका दिया। मेजा के ग्राम सभा भैया में सुशील कुमार पाल पुत्र लाल बहादुर पाल का अपनी पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। आरोप है कि इससे आक्रोशित होकर सुशील ने अपनी एक माह की मासूम बेटी शिवानी की गला दबाकर हत्या कर दी। सूचना  पर इंस्पेक्टर मेजा अरुण चतुर्वेदी व उपनिरीक्षक विनोद कुमार सिंह चौकी प्रभारी कोहडार थाना मेजा मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Edited By: Brijesh Srivastava