प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज के लोगों के लिए एक और अच्‍छी खबर है। वह यह कि यहां अभी तक एक भी कोरोना वायरस से पीडि़त मरीज की पुष्टि नहीं हुई है। हां संदिग्‍ध मरीजों को अस्‍पताल में भर्ती कर उनकी जांच के लिए रिपोर्ट लगातार भेजी जा रही है। फिलहाल अभी तक जितनी भी जांच रिपोर्ट आई है, उनमें एक में भी इस महामारी की पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आई है।

स्‍वजनों व ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

शंकरगढ़ क्षेत्र के दो गांव से प्रयागराज भेजे गए कोरोना संक्रमण के दो संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। इससे ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। बताया जाता है कि युवक मुंबई से 25 मार्च को घर आया था। विशेष टीम युवक को जांच के लिए प्रयागराज ले गई थी।  इसी तरह क्षेत्र का एक युवक बंगलौर से 27 मार्च को अपने गांव आया था। उसकी भी जांच कराई गई थी। सीएचसी अधीक्षक डा. शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि दोनों युवकों की जांच रिपोर्ट निगेटिव मिली, जिस पर उनको डिस्चार्ज कर गांव पहुंचा दिया गया।

सोशल मीडिया के अफवाहों पर बिल्‍कुल न दें ध्‍यान

इन दिनों सोशल मीडिया के जरिए तरह-तरह के अफवाह फैलाए जा रहे हैं। कहीं कोरोना वायरस के संक्रमित होने का अफवाह फैला दिया जाता है तो कहीं कोरोना के चलते मौत होने की बात की जा रही है, यह सब गलत है। ऐसे अफवाहों पर ध्यान न दें, इसे नजरअंदाज करें क्योंकि प्रयागराज में अभी तक कोई भी पाजिटिव केस नहीं आया है। जनपद में अभी तक स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल व तेजबहादुर सप्रू अस्पताल में आए कुल संदिग्ध मरीजों का सैंपल किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज, लखनऊ के लैब में जांच के लिए भेजा गया। सभी की रिपोर्ट निगेटिव है। इन सभी को घर भेज दिया गया है वह होम क्वारंटाइन में हैं। नोडल अधिकारी डॉ. गणेश प्रसाद का कहना है कि अभी तक जनपद में कोई भी पाजिटिव केस नहीं मिला है। सभी स्वस्थ हैं। दस सैंपल भेजे गए थे सभी के रिपोर्ट निगेटिव हैं। लोग सावधानी बरतें और घर में रहें।

जानें प्रयागराज के संदिग्‍ध मरीजों के सैंपल और मरीज

10 फरवरी : एक दंपती के सैंपल भेजे गए थे। यह उसी फ्लाइट में बैठे थे जिसमें केरल के दो पाजिटिव मरीज मिले थे।

18 मार्च : शहर का रहने वाला छात्र इटली से लौटा था। बुखार होने पर एसआरएन में भर्ती किया गया था।

19 मार्च : अबूधाबी से लौटी गर्भवती महिला को कोरोना का संदिग्ध मरीज मानते हुए एसआरएन में भर्ती किया गया था।

20 मार्च : बेली में तीन संदिग्ध मरीज भर्ती हुए, जो मुंबई से लौटे थे। इसमें एक युवक पाजिटिव मरीज के संपर्क में आया था।

21 मार्च : एसआरएन में अबूधाबी से लौटे एक संदिग्ध मरीज को भर्ती किया, जो स्वस्थ है।

23 मार्च : अबूधाबी से लौटे युवक को एसआरएन में भर्ती किया गया जो यह पाजिटिव मरीज के संपर्क में आया था।

26 मार्च : मुंबई से लौटे एक युवक को एसआरएन में भर्ती किया गया था, इसकी रिपोर्ट भी निगेटिव है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस