जासं, इलाहाबाद : शहर में गुरुवार को कुछ इलाकों में जाम से थोड़ी राहत रही, लेकिन पुराने शहर में राहगीरों की आफत कम नहीं हुई। ट्रैफिक पुलिस की लचर व्यवस्था और पुलिस कर्मियों की हीलाहवाली के चलते उन चौराहों पर भी जाम लगने लगा है, जहां ट्रैफिक व्यवस्था सुगम रहती थी।

सीएमपी डॉट पुल पर रेलवे की ओर से चल रहे निर्माण कार्य के चलते रूट डायवर्ट किया गया है। इसके बावजूद ट्रैफिक पुलिस सुगम और सुरक्षित यातायात के लिए बेहतर इंतजाम नहीं कर पा रही है। सोहबतियाबाग डॉट पुल का चौड़ीकरण होने से लोगों ने थोड़ी राहत की सांस जरूर ली है, लेकिन पुराने शहर में जाना सबसे मुश्किल काम है। बैरहना, निरंजन डॉट पुल, खुशरोबाग रोड से लेकर चौफटका ओवर ब्रिज तक सुबह से लेकर शाम तक वाहन रेंगते रहते हैं। जाम की स्थिति अब मुट्ठीगंज जैसे क्षेत्र में भी शुरू हो गई। गऊघाट, कटघर और बलुआघाट, नूरुल्ला रोड पर भी गुरुवार को जाम लगा रहा। यूं तो जोगीवीर तिराहे से लेकर युनानी मेडिकल कॉलेज के बीच ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगती है, लेकिन उनकी सक्रियता जाम लगने के बाद होती है। खुल्दाबाद में कुछ मकानों की स्थिति खराब होने से मछली मंडी और बनर्जी तिराहे की बीच रूट डायवर्जन किया गया है, लेकिन उन स्थानों एक भी पुलिसकर्मी की तैनाती नहीं की गई है। बुधवार की तुलना में गुरुवार को शहर में जाम भीषण नहीं था, लेकिन राहगीरों का आसानी से गंतव्य तक पहुंचने में परेशानी कम न थी। देर शाम हल्की बारिश होने से जगह-जगह कीचड़ फैल गया। जिससे दो पहिया वाहन चालक गिरकर चुटहिल हो गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस