प्रयागराज, जेएनएन। लालगोपालगंज में महुआ के विवाद में दो सगे भाई एक-दूसरे के खून के प्यासे हो गए। मंगलवार की रात बात बढ़ी तो एक भाई और उसके परिवार के अन्य लोगों ने मिलकर दूसरे भाई की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस को देख आरोपित फरार हो गए। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। वहीं शव को कब्जे में ले लिया।

परिवार के सदस्‍यों के साथ मिलकर इतना पीटा की हुई मौत

विवाद दोपहर में ही शुरू हुआ था। रात करीब 10 बजे मामले ने जब तूल पकड़ा तो श्रीकांत ने अपने परिवार के साथ मिलकर राड और लाठी-डंडे से अपने सगे भाई लक्ष्मीकांत सरोज पर हमला बोल दिया। आरोप है कि श्रीकांत सरोज पुत्र रामसुमेर, कलावती पत्नी श्रीचंद, सरिता पुत्री श्रीचंद और भतीजा अवधेश ने मिलकर लाठी-डंडे से पीट-पीटकर 40 वर्षीय लक्ष्मीकांत सरोज पुत्र राम सुमेर को मौत के घाट उतार दिया।

नवाबगंज पुलिस ने आरोपितों के दबिश दी पर आरोपित हाथ न आए

युवक की मौत के बाद दोनों पक्ष आक्रोशित होकर एक बार फिर आमने-सामने हो गए। घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंचे नवाबगंज एसएसओ सुरेश सिंह व चौकी प्रभारी चंद्रभूषण मौर्य मय फोर्स घटनास्थल पर पहुंच गए। आक्रोशित लोगों को किसी तरह काबू में किया। मौत की घटना से मृतक की पत्नी बदामा देवी का रो-रो कर हाल बेहाल है। नवाबगंज पुलिस ने आरोपितों के दबिश दी। परंतु आरोपित घर छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

सिपाही की हत्या में नामजद पांच आरोपित गिरफ्तार

नैनी में मोहब्बतगंज के ठाकुरी के पुरवा गांव में एग्रीकल्चर चौकी में तैनात सिपाही रवि पांडे पुत्र सदानंद पांडे की हत्या के मामले में पुलिस ने पांच नामजद आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि अभी तीन फरार हैं, जिनकी तलाश में पुलिस जुटी है।

बालू लदी ट्रैक्‍टर-ट्राली से कुचलकर सिपाही की हत्‍या हुई थी

10 अप्रैल की रात अवैध खनन की सूचना पर सिपाही रवि पांडे ठकुरी का पूरा में गए थे। वहां बालू खनन कर ले जा रहे ट्रैक्टर को दौड़ाया तो चालक रवि को कुचलते हुए वहां से फरार हो गया था। मामले में चौकी प्रभारी तरुणेंद्र त्रिपाठी की तहरीर पर सात नामजद समेत 10 लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ था। इसमें पुलिस ने नामजद राज बहादुर निषाद, विनय निषाद, रामजी निषाद, अनिल निषाद, निरंजन निषाद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस