प्रयागराज, जेएनएन। एक ओर कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए शहर में लॉक डाउन है तो वहीं चैत्र नवरात्र भी शुरू है। ऐसे में फुटकर बाजार में फलों और सब्जियों के दाम मनमाना वसूल किए जा रहे हैं। इसका अंदाजा केवल इसी से लगाया जा सकता है कि मुंडेरा मंडी में अंगूर 30 से 40 रुपये किलो बेचा जा रहा है जबकि फुटकर ठेले पर यह 100 रुपये किलो तक बिक रहा है। फुटकर में केला 60 रुपये दर्जन है जबकि मंडी में दाम 900 से 1000 रुपये कुंतल है। संतरे का दाम जरूर कुछ स्थिर है। ऐसा ही कुछ हाल सब्जियों का भी है।

सुबह सात से 10 बजे तक लॉक डाउन में ढील है

सुबह सात से 10 बजे तक लॉक डाउन में ढील देकर प्रशासन लोगों को रोजमर्रा उपयोग की वस्तुओं और खाद्य सामग्री की खरीदारी करने का मौका दे रहा है। चैत्र नवरात्र में तमाम लोग नौ दिनों का व्रत हैं। इससे फलों की डिमांड भी है। ऐसे में लॉक डाउन में ढील मिलते ही लोग फल के ठेलों पर टूट पड़ रहे हैं, जिसका फायदा फुटकर दुकानदार उठा रहे हैं। ठेले पर संतरा 50 रुपये किलो, अंगूर 80 से 100 रुपये, सेब 120 रुपये किलो और केला 80 रुपये प्रति दर्जन बिक रहा है। जबकि मुंडेरा मंडी में थोक व्यापारियों के अनुसार अंगूर 20 किलो का क्रेट 600 से 800 रुपये, सेब की 15 किलो की पेटी 900 से 1000 रुपये तक है।

फुटकर में सब्जियों के दाम भी तेज, थोक भाव से दोगुने दाम पर बिक रहा आलू 

फुटकर दुकानों और ठेलों पर आलू मुंडेरा मंडी के थोक भाव से तकरीबन दोगुने दाम पर बिक रहा है। आलू के भाव ठेलों पर 25 से 40 रुपये किलो हैं। थोक में यह 1400 से 1600 रुपये कुंतल है। कद्दू थोक में 600 से 1000 रुपये कुंतल व भिंडी 30 से 35 रुपये किलो, नेनुआ 30 से 35 रुपये किलो, करैला 50 रुपये किलो, बैगन 10 से 12 रुपये किलो, प्याज 16 से 21 रुपये किलो और टमाटर थोक में 28 से 30 रुपये किलो है। जबकि फुटकर बाजार में तकरीबन दोगुने दाम लिए जा रहे हैं।

तीन दिन में सब्जियों के दाम गिरे

सब्जियों के दाम पिछले तीन दिनों में गिरे हैं। जनता कफ्र्यू से पहले लोगों ने सब्जियां स्टॉक कर ली थीं। पीएम ने जब लॉक डाउन घोषित करते हुए कहा कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति जारी रहेगी तो जनता ने खरीद कम कर दी जिससे सब्जियों के दाम गिर गए। 

-सतीश कुशवाहा, अध्यक्ष सब्जी और फल व्यापार मंडल, मुंडेरा।

...तो बढ़ जाएंगे फलों के दाम

फलों के दाम थोक मंडी में कम व स्थिर हैं। माल बाहर के प्रदेशों से आ रहा है। अपने जिले में तो परिवहन के लिए पास जारी हो रहे हैं। हालांकि दूसरे राज्यों जैसे बंगलुरु, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा, कोलकाता से माल लाने के लिए पास नहीं बन रहा। सरकार ने इस पर दो-तीन दिन में कोई निर्णय न लिया तो दाम बहुत बढ़ जाएंगे।

-प्रमोद यादव 'बच्चा', महामंत्री सब्जी-फल व्यापार मंडल, मुंडेरा।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस