प्रयागराज, जेएनएन। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हो रहे विरोध के मद्देनजर जुमे की नमाज सकुशल संपन्न कराने के लिए जिले को 40 सेक्टरों में बाटा गया था। शहर में 20 सेक्टर, यमुनापार,गंगापार में 10-10 सेक्टर बनाए गए थे। इन सेक्टरों में मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गई थी। इसके अलावा शहर में छह जोन और तीन सुपर जोन बनाए गए थे। करेली जोन में एसडीएम सदर अवध नारायण सिंह, कोतवाली जोन में एसएलओ जेएल श्रीवास्तव, खुल्दाबाद में एसीएम तृतीय सुनील कुमार, सिविल लाइंस में एसीएम प्रथम गौरव रंजन श्रीवास्तव बतौर जोनल मजिस्ट्रेट तैनात किए गए थे। इसी तरह एडीएम आपूर्ति जितेंद्र कुशवाहा को करेली व खुल्दाबाद में, सिविल लाइंस व कैंट में एडीएम नजूल गंगाराम को तथा सीआरओ को कोतवाली में सुपर जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में लगाया गया था। एडीए सिटी अशोक कनौजिया पूरे शहर में मानीटरिंग कर रहे थे। एडीएम प्रशासन विजय शंकर दुबे को भारतगंज में एसपी यमुनापार दीपेंद्र चौधरी व एसडीएम मेजा रेनू सिंह के साथ थे। एडीएम एमपी सिंह व एसपी गंगापार नरेंद्र कुमार सिंह को लेकर मऊआइमा में सुपर जोनल अधिकारी बनाए गए थे।

पिछले सप्ताह जुमे की नमाज के बाद हुआ था विरोध-प्रदर्शन

पिछले हफ्ते जुमे की नमाज के बाद शहर के कई इलाकों से जुलूस निकाल विरोध-प्रदर्शन किए गए थे। हालांकि लोगों ने कोई हंगामा नहीं किया। अभी वही माहौल बना हुआ है। पुलिस और प्रशासन की ओर से लोगों में जागरूकता लाने का प्रयास किया जा रहा है। जन प्रतिनिधियों और मस्जिदों के इमाम, मौलाना के साथ बैठकें और गोष्ठियां की गईं। जुमे की नमाज के मद्देनजर गुरुवार को शहर और ग्रामीण इलाके में पीस कमेटी की बैठकें भी हुईं। शहर में एसपी सिटी और एडीएम सिटी समेत सभी सीओ और थानेदारों ने अपने क्षेत्र के गणमान्य लोगों के साथ बैठक कर शांति बनाए रखने की अपील की।

  बोले एसपी सिटी

एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव का कहना है कि शहर के लोगों ने सूझबूझ के साथ शांति और सौहार्द बनाए रखा है। तमाम मस्जिदों में शांति के संदेश प्रसारित करने की अपील की गई है।

सीआरपीएफ के साथ आरएएफ की तैनाती

शहर में शांति व्यवस्था के लिए पैरा मिलेट्री फोर्स की भी तैनात रही। एसपी सिटी ने बताया कि अटाला में एक कंपनी सीआरपीएफ तैनात की गई है। कोतवाली पर जामा मस्जिद के सामने एक कंपनी आरएएफ मुस्तैद है। सिविल लाइंस चौराहे के आसपास आरआरएफ की तैनाती है जबकि यूनिवर्सिटी इलाके में एक कंपनी पीएसी की कई टुकडिय़ां गश्त पर रहेंगी। पुलिस लाइन में प्रशिक्षण ले रहे रिक्रूट सिपाहियों को भी 20-20 की संख्या में खुल्दाबाद, सिविल लाइंस समेत शहर के अन्य थानों में भेजा गया है।

144 के उल्लंघन पर भेज रहे नोटिस

पिछले शुक्रवार और उसके पहले शहर में धारा 144 लागू होने के बावजूद जुलूस निकाल विरोध-प्रदर्शन  के मामले में लिखे गए आधा दर्जन मुकदमों में 12 सौ से ज्यादा लोग आरोपित बनाए गए हैैं। अब तक 350 से ज्यादा लोग चिह्नित हुए हैैं, जिन्हें नोटिस भेजी जा रही है। कोई ङ्क्षहसा या बवाल नहीं हुआ इसलिए गिरफ्तारी करने का विचार नहीं है। उम्मीद है शहर के लोग अमन चैन बहाली में पूरी सहायता करेंगे।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस