प्रयागराज, जेएनएन। पिछले दो दिनों से बारिश रुकी है। हालांकि आसमान में बादल तो छाए हैं पर गुरुवार के बाद शुक्रवार की सुबह तक बारिश नहीं होने से उमस भरी गर्मी का वर्चस्‍व एक बार फिर बढ़ गया है। रात में तो यह हाल था कि कूलर और पंखे भी बेअसर साबित हो रहे थे।

पिछले दिनों की बारिश ने दी थी राहत

हां यह अलग बात है कि पिछले दिनों प्रयागराज में राहत की बारिश हुई थी। लगातार कुछ दिनों तक कभी रिमझिम तो कभी झमाझम बारिश हो रही थी। इससे गर्मी का वर्चस्‍व भी कम हो गया था और लोगों को राहत मिली थी। बारिश के कारण तापमान में भी कमी आ गई थी। आज यानी शुक्रवार की सुबह भी आसमान में बादल छाए हैं लेकिन बारिश नहीं हो रही है।

वज्रपात से बेटे की मौत, पिता गंभीर

फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के हंसराजपुर गांव में धान की रोपाई करते समय वज्रपात से एक किसान के बेटे की मौत हो गई, वहीं किसान गंभीर रूप से झुलस गया। किसान को उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। हंसराजपुर गांव निवासी संदीप (18) कुमार पुत्र विजय कुमार तथा पिता विजय कुमार पुत्र छोटेलाल धान की रोपाई कर रहे थे। इसी दौरान वज्रपात होने से पिता-पुत्र गंभीर रूप से झुलस गए। जानकारी होने पर स्वजन दोनों को गंभीर हालत में एक निजी अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने बेटे को मृत घोषित कर दिया। वहीं विजय कुमार को इलाज के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस संदीप कुमार के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।

बोले तहसीलदार-आपदा राहत कोष से मिलेगी सहायता र‍ाशि

इस संबंध में तहसीलदार फूलपुर रमेश चंद्र पांडेय ने बताया कि आपदा राहत कोष से निर्धारित राशि दिलाने की कार्रवाई की जा रही है। किसान के बेटे की मौत से स्वजनों में कोहराम मचा हुआ है।

दरवाजे पर पानी भरा होने से लोग घरों में कैद

लालगोपालगंज कस्बा के दानियालपुर मोहल्ला में बारिश के पानी की निकासी न होने से घरों के दरवाजे पर लगातार पानी भरा है। इससे घर के लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। एक सप्ताह पहले रुक-रुक कर हुई बारिश ने लोगों की मुसीबतें बढ़ा दी हैं। दनियालपुर मोहल्ला के बीच में एक तालाब है, जिसमें मोहल्ला का इस्तेमाल शुदा पानी जमा होता है। बारिश होने पर पानी की समुचित निकासी न होने के कारण तालाब का फैलाव बढऩे से लोगों के घरों में पानी दाखिल हो जाता है। बच्चों के लिए खतरा महसूस करते हुए उन्हें घर में कैद रखा जाता है। हालांकि बारिश के दौरान नगर पंचायत ने इंजन लगाकर पानी की इतनी निकासी नहीं किया। जितने में लोगों को राहत मिल सके। बरसात के मौसम में इस तरह की समस्या उक्त मोहल्ला में लगातार बनी रहती है। तालाब के किनारे रहने वाले वााङ्क्षशदों ने स्थाई रूप से जल निकासी की व्यवस्था किए जाने की मांग उठाई है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस