प्रयागराज, जागरण संवाददाता। वायु दबाव अधिक होने पर अगले दो-तीन दिन में प्रयागराज में बारिश होने की पूरी संभावना है। पिछले दो दिन से लगातार आसमान में बादल छाए हैं और बारिश का माहौल भी बन रहा है लेकिन हवा से बादल टिक नहीं पा रहे हैं और बारिश भी नहीं हो पा रही है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो-तीन दिन में झमाझम बारिश का अनुमान है, हालांकि उसका अंतराल अधिक नहीं रहेगा।

पिछले दो दिन ऐसा रहा मौसम

गुरुवार और शुक्रवार को दोनों दिन लगातार सूरज और बादलों के बीच प्रतिस्पर्धा चलती रही। कई बार ऐसा माहौल तैयार हुआ कि अब तो बारिश हो ही जाएगी मगर ऐसा नहीं हुआ। बादलों की आंख-मिचौली के कारण लोग उमस से भी परेशान रहे। दिन में बाहर निकलने वाले लोगों को हल्की दिक्कत भी हुई। देर शाम तक मौसम में हल्का बदलाव दिखाई दिया लेकिन बारिश नहीं हुई।

कल की तुलना में अधिकतम तापमान में आज कमी, न्‍यूनतम बढ़ा

शुक्रवार की तुलना में शनिवार को अधिकतम तापमान में कमी हुई जबकि न्‍यूनतम तापमान बढ़ा है। शनिवार को अधिकतम तापमान 33.0 डिग्री सेल्सियस और न्‍यूनतम तापमान 27.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। गुरुवार को अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो शुक्रवार को घटकर 33.8 डिग्री सेल्सियस पर रुक गया था। गुरुवार को न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस था। शुक्रवार को इसमें मामूली अंतर आया था। सिर्फ 0.2 डिग्री सेल्सियस तापमान नीचे आया। तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वायु में अधिकतम आद्रता 99 प्रतिशत रही। न्यूनतम 68 प्रतिशत रही।

मौसम विज्ञानी बारिश की जता रहे संभावना

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डा. शैलेंद्र राय का कहना है कि मध्य भारत में अगले दो-तीन दिन में अच्छी बारिश होने की पूरी संभावना है। इसलिए प्रयागराज में भी झमाझम बारिश हो सकती है। मौसम में अचानक बदलाव होगी और आधे घंटे में ही बादल बरस कर चले जाएंगे। यह बारिश शहरी क्षेत्र से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक लोगों को बहुत राहत देगी।

दोपहर में अक्सर बदलता है मौसम

सितंबर माह में जब भी बारिश हुई है तो अधिकांश समय दोपहर ही रहा है। दोपहर में अचानक काले आते हैं, देखते ही देखते बारिश शुरू हो जाती है। आधे घंटे में बारिश होकर समाप्त हो जाती है। अगले आधे घंटे में मौसम फिर पहले जैसा हो जाता है।

 

Edited By: Brijesh Srivastava