प्रयागराज, जागरण संवाददाता। पुरुष नसबंदी के मामले में प्रयागराज ने इस वर्ष भी रिकार्ड कायम कर दिया है। भरपूर ऊर्जा के साथ 11 से 31 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवारा संपन्न कराया गया। इससे प्रेरित होकर पुरुषों की नसबंदी और महिलाओं का बंधकरण खूब हुआ। परिणाम रहा कि पुरुष नसबंदी के मामले में प्रयागराज लगातार पांचवें वर्ष प्रदेश में शीर्ष पर रहा। 'आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी' इस बार विश्व जनसंख्या दिवस की इस थीम पर जनपद में पखवारा चलाया गया था।

सीएमओ बोले- प्रथम स्‍थान को बनाए रखना होगा

मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी (सीएमओ) डाक्‍टर नानक सरन कहते हैं कि प्रयागराज परिवार कल्याण के कार्यों में लगातार प्रथम रहा है और हमें इसे इसी स्थान पर बनाए रखने के लिए निरंतर प्रयास करते रहना होगा। कहा कि लक्ष्य सिर्फ पखवारे के लिए नहीं निरंतरता बनाए रखने के लिए समझें। योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाएं।

परिवार कल्‍याण के नोडल अधिकारी ने यह कहा

परिवार कल्‍याण के नोडल अधिकारी डाक्‍टर सत्‍येन राय ने कहा कि एफएसटी, एनएसवी, आइयूसीडी एवं अंतरा लगाने में मंडल में प्रयागराज प्रथम है। आशाओं ने योग्य दंपती को चिह्नित कर उन्हेंं परिवार नियोजन के बारे में परामर्श दिया। बास्केट आफ चाइस के बारे में बताया और परिवार नियोजन का उचित साधन उपलब्ध कराए।

नसबंदी के प्रति जागरूकता अभियान

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग नसबंदी के प्रति लोगों में जागरूकता उत्‍पन्‍न करने का प्रयास करता रहा है। इसमें स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों का काफी महत्‍वपूर्ण योगदान भी है। गांव-गांव जाकर महिलाओं और पुरुषाें को नसबंदी कराने के प्रति जागरूक किया जाता है। प्रयागराज के पुरुष नसबंदी में उत्‍तर प्रदेश में लगातार पांच वर्षों से अव्‍वल रहने का यह भी कारण बताया जाता है। यही जागरूकता रही तो उम्‍मीद की जा रही है कि अगले वर्ष भी प्रयागराज प्रथम स्‍थान पर काबिज हो सकेगा।

आंकड़ों पर एक नजर

1036 महिला बंध्याकरण

124 पुरुष नसबंदी

3120 आइयूसी्रडी

936 पीपीआइयूसीडी

2491 अंतरा का लाभ

नोट : एक पखवारे में उपलब्ध कराई सामग्री।

इसे भी जानें

1,31,683 उचित साधन

16,370 माला एन गोली

2,463 छाया गोली

6,504 इमरजेंसी पिल

नोट : पखवारे में गांव समाज में उपलब्ध सामग्री।

नोट : जैसा कि जिला परिवार नियोजन एवं सामग्री प्रबंधक सचिन चौरसिया ने बताया।

Edited By: Brijesh Srivastava