प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में फाफामऊ के रूदापुर गांव में शनिवार दोपहर भट्ठा मालिक के बेटे की गोली मारकर हत्या और दो लोगों को घायल करने के आऱोपित व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस ने आज रविवार को सख्त एक्शन लिया। एसपी गंगापार अभिषेक अग्रवाल के नेतृत्व में पुलिस आरोपितों के घर पर बुलडोजर लेकर पहुंच गई। बादशाह लिखे मकान पर पुलिस टीम बुलडोजर लेकर पहुंची तो मोहल्ले के लोग सन्न रह गए। एसपी गंगापार ने वहां ऐलान किया कि अगर सभी नामजद अभियुक्त हाजिर नहीं हुए तो घरों को भी ढहा दिया जाएगा। दोपहर बाद बुलडोजर एक्शन में आया और सिकंदर के एक पुत्र जावेद अहमद का घर ढहा दिया गया।

25-25 हजार इनाम घोषित, दो दारोगा निलंबित, थानेदार पर भी लटकी तलवार

इसके साथ ही एसएसपी ने सभी चार आरोपितों की गिरफ्तारी पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया गया है। इसके अलावा फाफामऊ थाने में तैनात दारोगा संजय सिंह यादव और मंगला प्रसाद यादव को निलंबित कर दिया गया है। मौजूदा थानेदार आशीष सिंह, पूर्व थाना प्रभारी अनिल वर्मा के अलावा दो बीट सिपाही और मुख्य आरक्षी के खिलाफ भी इस  घटना में लापरवाही की जांच के आदेश दिए गए हैं।

स्कार्पियों कार में घर लौटते वक्त की थी फायरिंग

रूदापुर गांव निवासी ईंट भट्ठा संचालक अतीक अहमद का पुत्र मुदस्सिर अपने भाई बसीर अहमद और असरौली पूरामुफ्ती के आकिब के साथ शनिवार दोपहर स्कार्पियो कार में भट्ठा से घर लौट रहा था तभी बाइक सवार लोगों ने रोककर गोलियां बरसाई थीं। गाड़ी में मौजूद तीन लोगों मुदस्सिर, बसीर और आकिब को गोली लगी। फायरिंग की आवाज सुनकर लोग उधर दौड़े तो हमलावर बाइक पर भाग निकले। इस मामले में सिकंदर बादशाह के चार बेटों के खिलाफ केस लिखा गया है। घटना के बाद से चारों आरोपितों समेत परिवार के लोग भी फरार हैं। पुलिस का कहना है कि 10 बिस्सा जमीन के झगड़े में यह दुस्साहिसक वारदात अंजाम दी गई है।

घटना के 24 घंटे बाद भी एक भी नामजद आरोपित नहीं पकड़ा जा सका तो पुलिस ने हाल फिलहाल का सबसे हॉट फार्मूला अपनाया। रविवार दोपहर एसपी अभिषेक अग्रवाल पुलिस फोर्स के साथ बुलडोजर लेकर पहुंचे तो मोहल्ले में सन्नाटा छा गया।  सिकंदर बादशाह के घर में कोई नहीं था। महिलाएं भी नदारद थी। एसपी गंगापार ने कहा कि सिकंदर के बेटों ने एक तो ऐसी कारगुजारी की, फिर फरार हो गए। इसलिए उनका घर ढहाया जाएगा। ऐसे लोगों को सबक सिखाना जरूरी है। दोपहर बाद बुलडोजर ने सिकंदर बादशाह के पुत्र जावेद अहमद के घर को ढहाना शुरू किया। 

Edited By: Ankur Tripathi