प्रयागराज, जागरण संवाददाता। राज्य कर की विशेष अनुसंधान शाखा (एसआइबी) की टीमों ने गुरुवार को मंडल में 44 स्थानों पर छापेमारी की। जांच के दौरान दो फर्मों से अभिलेखों की हेराफेरी कर 1.60 करोड़ की कर चोरी पकड़ में आई। मौके पर अधिकारियों की टीम ने कई दस्तावेजों को कब्जे में ले लिया और आगे की कार्रवाई में जुट गई है। 

गुरुवार को कौशांबी के लोहे व स्टील का बिजनेस करने वाले एक फर्म के यहां छापेमारी के दौरान अधिकारियों के हाथ कई अहम दस्तावेज लगे। अभिलेखों के जांच के दौरान कुल 90 लाख की कर चोरी सामने आई।

इसके बाद अधिकारियों ने मौके पर जुर्माना वसूलने की कार्रवाई शुरू की, लेकिन पता चला कि फर्म का मालिक गंभीर हृदय रोग से पीड़ित है और मौके पर कर नहीं जमा कर सकता है, तो टीम ने मानवता दिखाते हुए अभिलेखों को कब्जे में लेकर लौट आई। 

एसआईबी की 17 टीमों ने की छापेमारी

इसी प्रकार फतेहपुर के एक गिट्टी बालू का कारोबारी के यहां छापेमारी के दौरान कुल 70 लाख की कर चोरी सामने आई। एसआईबी की 17 टीमों ने प्रयागराज में 18, प्रतापगढ़ में दस, फतेहपुर में नौ व कौशांबी में सात स्थानों पर छापेमारी की। 

प्रभारी एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 प्रदीप कुमार व एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 2 एसआईबी हरीराम चौरसिया के नेतृत्व में कार्रवाई के लिए पहले से रेकी की गई थी। ज्वाइंट कमिश्नर मोनू त्रिपाठी ने बताया कि मंडल के कई प्रतिष्ठानों पर लंबे समय से नजर रखी जा रही थी। लगातार कर चोरी की सूचना पर टीमों ने एक साथ छापेमारी को अंजाम दिया गया।

व्यापारियों ने जताया विरोध

लगातार जीएसटी की छापेमारी से नाराज व्यापारियों ने गुरुवार को एडिशनल कमिश्नर ग्रेड टू हरिराम चौरसिया से मुलाकात कर अपना विरोध जताया। प्रयागराज व्यापार मंडल का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष सुशांत केसरवानी के नेतृत्व में मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। 

सुशांत ने बताया कि छापेमारी के आड़ में विभाग के अधिकारी व्यापारियों को शोषण कर रहे हैं। इसपर रोक लगनी चाहिए। छापेमारी से व्यापारियों में भय व्याप्त है। सर्वे छापे से इंस्पेक्टर राज और भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलेगा। प्रतिनिधिमंडल में मनीष कुमार गुप्ता, राजकुमार केसरवानी, आनंद टंडन, सुशील शुक्ला, प्रशांत पांडे, सुशील जयसवाल, मुसाब खान, अमित गुप्ता, रोशनी अग्रवाल, जूही श्रीवास्तव, अखिलेश मिश्रा, बबलू जारी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट