प्रयागराज, जेएनएन। Fraud in marriage grant scheme प्रयागराज में समाज कल्याण विभाग में बड़ा घोटाला सामने आया है। यह घोटाला किया गया है मुख्यमंत्री शादी अनुदान योजना में। शादी अनुदान योजना में चार लाख रुपये से ज्यादाका फर्जीवाड़ा किया गया है। पता चला कि 24 लड़कियों के नाम पर दो-दो बार 20- 20 हजार की धनराशि जारी कर पैसा हड़पा गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने गठित कर दी है जांच कमेटी ताकि दोषियों का पता लगाकर कार्रवाई की जा सके।

जांच में फंसे कर्मचारियों-अधिकारियों पर गिरेगी गाज, होगी रकम की वसूली

सीडीओ का कहना है कि ब्लॉक स्तर पर सेक्रेटरी से लेकर समाज कल्याण विभाग में एकाउंटेंट, बाबू व अधिकारियों की मिलीभगत की होगी जांच और तय होगी जवाबदेही। साथ ही घोटाले की रकम की होगी वसूली, कई कर्मचारी व अधिकारियों पर गिर सकती है गाज।

जिन लड़कियों की शादी के नाम पर दो-दो बार रकम ली गई है उनका विवरण जुटा लिया गया है। नाम, आवेदन संख्या, पैसा मिलने का वर्ष, पति का नाम, पिता का नाम आदि जानकारियां एकत्र कर ली गी है। मुख्य विकास अधिकारी ने आख्या मांगी है। अब रजिस्टर में इन्हें ढूंढा जाएगा। अभी पता नहीं मिल सका है। जो शिकायत हुई है उसकी सत्यता की जांच कराई जा रही है। हालांकि प्रथम दृष्टया मामले की पुष्टि हो गई है।

शादी की रकम दो बार लेकिन पति दोनों बार एक ही

यह भी चौंकाने वाली बात है कि एक ही लड़की की शादी के नाम पर दो बार पैसा तो लिया गया लेकिन हर बार पति का नाम एक ही है। दूसरे व्यक्ति से शादी नहीं हुई है। उसी व्यक्ति का नाम वर के रूप में लिखा हुआ है यानी एक-एक बार का पैसा डकारा गया है। इस घोटाले की गुरुवार को विकास भवन में हर तरफ चर्चा है। तय है कि भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेंस अपनाने वाले सीएम योगी सख्त एक्शन लेने वाले हैं।

Edited By: Ankur Tripathi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट