प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज के नए जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआइओएस) पीएन सिंह ने शनिवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। वह 1998 बैच के पीईएस अधिकारी हैं। अब तक वह मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक लखनऊ के रूप में कार्य कर रहे थे। पहले दिन उन्होंने कार्यालय के सभी कर्मचारियों से परिचयन प्राप्त कर समय से उपस्थित होने की हिदायत दी।

डीआइओएस बोले- शासन की योजनाएं ठीक से लोगों तक पहुंचे : डीआइओएस पीएन सिंह ने कहा कि कोई भी पत्रावली लंबित न रखी जाए। शासन की योजनाओं को ठीक से लोगों तक पहुंचाया जाए। सभी स्कूलों के प्रधानाचार्यों को भी शिक्षण में गुणवत्ता लाने के लिए भी दिशा निर्देश भेजे गए हैं। कहा गया है कि समय से विद्यालय खुलें, अध्यापक नियमित रूप से कक्षाएं लें। चाहे विद्यालय हो या कार्यालय सभी जगह शिष्टाचार और अनुशासन जरूरी है।

आजमगढ़ भेजे गए डीआइओएस आरएन विश्वकर्मा : जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा का स्थानांतरण आजमगढ़ कर दिया गया है। आरएन विश्वकर्मा पूरे सेवाकाल में मात्र चार महीने गैर जनपद रहे हैं। उसके बाद अलग अलग पदों पर वह प्रयागराज में ही सेवारत रहे। तीन अप्रैल 1999 में वरिष्ठ प्रवक्ता डायट मंझनपुर के रूप में नियुक्ति मिली थी। वह इस पद पर 23 जुलाई 1999 तक रहे। इसके बाद राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान में प्रोफेसर के रूप में 24 जुलाई 1999 से 16 फरवरी 2001 तक, उप सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद क्षेत्रीय कार्यालय के रूप में 17 फरवरी 2001 से 23 अप्रैल 2012 तक कार्यरत रहे। करीब तीन माह के लिए वरिष्ठ प्रवक्ता डायट पुखराया कानपुर देहात में तैनाती रही।

इन पदों पर आसीन रह चुके हैं पूर्व डीआइओएस : 27 जुलाई 2012 से वरिष्ठ प्रवक्ता डायट प्रयागराज के रूप में नियुक्ति मिली। चार जून 2013 तक इस पद पर रहे। स.शि.नि. (पत्राचार) राज्य शिक्षा संस्थान प्रयागराज में चार जून 2013 से 11 अक्टूबर 2014, प्रभारी डीआइओएस द्वितीय प्रयागराज 11 अक्टूबर 2014 से 16 अगस्त 2016 तक रहे। उप प्राचार्य डायट हापुड के रूप में 20 अगस्त से एक सितंबर 2016 तक नियुक्त रहे। इसी क्रम में सहायक शिक्षा निदेशक (प्राइमरी), शिक्षा निदेशालय उप्र. प्रयागराज में पांच सितंबर 2016 से 23 जून 2017 तक तैनात रहे इसी जिले में जिला विद्यालय निरीक्षक के रूप में 23 जून 2017 से अब तक कार्य करते रहे।

Edited By: Brijesh Srivastava