प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज विकास प्राधिकरण अपराधियों, हिस्ट्रीशीटरों और माफिया के अवैध मकानों को ढहाने के साथ अपनी आवासीय योजनाओं में भी अवैध निर्माणों को जमींदोज करा रहा है। वहीं उन मकानों को ढहाने के बाद मलबा नहीं हटाया जा रहा है। इसकी वजह से कई मोहल्लों में नाले और नालियों के जाम होने की समस्या हो गई है। नाले-नालियों के जाम होने से लोगों के घरों का पानी नहीं निकल पा रहा है। इससे लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

माफिया व अपराधियों के खिलाफ पीडीए चला रहा है अभियान

पांच सितंबर 2020 को माफिया, अपराधियों और हिस्ट्रीशीटरों के अवैध निर्माणों के खिलाफ शुरू किया गया अभियान बदस्तूर जारी है। अब तक 52 अवैध मकान, शाङ्क्षपग कांप्लेक्स, लॉज, गेस्ट हाउस, कोल्ड स्टोरेज जमींदोज किए जा चुके हैं। इसमें से सबसे ज्यादा कार्रवाई माफिया अतीक अहमद, उनके रिश्तेदारों और करीबियों के खिलाफ हुई है। हाल के दिनों में प्राधिकरण शहर पश्चिमी विधानसभा क्षेत्र के कसारी-मसारी में अपराधियों के अवैध मकानों को जमींदोज कराने के साथ अपनी इसी आवासीय योजना में अवैध कब्जेदारों के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू कर दिया है।

कसारी-मसारी आवासीय योजना में ढहाए गए हैं अवैध निर्माण

पिछले दिनों दर्जन भर से ज्यादा अवैध मकान और निर्माण कसारी-मसारी आवासीय योजना में ढहाए गए हैं। ज्यादातर मकान और निर्माण सड़क के किनारे होने के कारण ढहाने पर उसका मलबा नाले और नालियों में भर गया। इससे नाले और नालियां जाम हो गई हैं। पार्षद मो. आजम बताते हैं कि कसारी-मसारी आवासीय योजना में मकानों को ढहाने से करेली क्षेत्र से आने वाला नाला जाम हो गया है। इसकी वजह से सैकड़ों घरों का पानी निकलना मुश्किल हो गया है। कई जगह पानी सड़कों पर बहता रहता है।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021