प्रयागराज, [अतुल यादव]। कोरोना की दूसरी लहर में सबकुछ प्रभावित हुआ। लोगों की दिनचर्या बदल गई। सतर्कता और बचाव के लिए आरटीओ समेत कई विभागों में काम बंद पड़े हैं। ऐसे में लोगों के काम भी अटके हैं। संक्रमण का प्रभाव कम नहीं होने से समय-समय पर सरकार पाबंदियों को बढ़ाती जा रही है। नया ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) बनवाने के लिए लोगों को अब 29 मई तक इंतजार करना होगा। 37 दिन आरटीओ में बंदी होने के चलते डीएल बनवाने लोगों की वेटिंग लिस्‍ट लंबी होती जा रही है। डीएल बनवाने वालों की वेटिंग लिस्‍ट 11 हजार पहुंच चुकी है।

23 अप्रैल से बंद है यह काम

दरअसल, जिले में संक्रमण के केस बढऩे पर संभागीय परिवहन कार्यालय में 23 अप्रैल से काम बंद कर दिए गए थे। इसके बाद यह तारीख 15 मई तक बढ़ाई गई। इसके अलावा लाइसेंस के नवीनीकरण समेत सभी काम बंद रहेंगे। शासन ने संक्रमण की चेन तोडऩे के लिए यह निर्णय लिया है। और सभी आरटीओ कार्यालय को पत्र भेजकर निर्देशित भी किया। उधर, 37 दिन आरटीओ में कोई काम नहीं होने से लर्निंग डीएल, स्थायी डीएल, डुप्लीकेट व नवीनीकरण कराने वाले करीब 18 हजार 722 लोग परेशान हैं।  एआरटीओ प्रशासन सियाराम वर्मा ने बताया कि शासन के निर्देश पर 29 मई तक कार्यालय में काम नहीं होगा। बुक किए गए स्लॉट रीशेड्यूल किए जाएंगे। अभ्यर्थियों के मोबाइल पर संदेश भेजकर अवगत भी कराया जाएगा।

औसतन प्रतिदिन होने वाले काम

काम                           संख्या

लर्निंग डीएल                   300

स्थायी डीएल                   144

डुप्लीकेट/नवीनीकरण           66