प्रतापगढ़, जागरण टीम। जिले की तहसील कुंडा के अंतर्गत आने वाले हीरागंज के ऐधा गांव में दो पक्षों में रंजिश के चलते झगड़ा हो गया। झगड़े में दोनाें ओर से खूब लाठी-डंडे चले, जिस कारण दोनों पक्षों से नौ लोग घायल हो गए। 

बताया गया कि गांव निवासी मेवालाल निर्मल का गांव के ही तीरथ राज आदि से रंजिश को लेकर विवाद चल रहा है। मेवालाल का आरोप है कि शनिवार रात तीरथ सिंह, विजय राज सिंह, पंकज सिंह, अभय राज सिंह, देशराज सिंह आदि ने मिलकर उसके खेत में बल्ली और तार को तोड़कर बेसहारा पशु को खेत में घुसा दिए थे। रविवार सुबह उलाहना देने पर आरोपित लाठी-डंडे से लैस एक राय होकर मारपीट करने लगे।

इसमें एक पक्ष से मेवा लाल, सरोजा देवी, अनीता देवी, कमला देवी, विनोद कुमार, राज निर्मल व दूसरे पक्ष के विजय राज सिंह, देशराज सिंह, सुधांशु सिंह को गंभीर चोटें आई हैं। लोगों के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हुआ तो घायलों को महेशगंज सीएचसी में भर्ती कराया गया।

दोनों पक्षों ने थाने में एक दूसरे के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। एसओ प्रमोद सिंह का कहना है कि दोनों पक्षों से तहरीर मिली है। जांचकर कार्रवाई की जाएगी।

एलएलबी की मेधावी छात्रा की मौत से सदमे में परिवार

डेरवा। तोखा का पुरवा सबलगढ़ डेरवा गांव निवासी रामकृष्ण द्विवेदी की बेटी कोमल द्विवेदी 23 साल की थी। वह मेधावी थी। परिवार को उम्मीद थी कि एक दिन वह परिवार का नाम रोशन करेगी, लेकिन ऐसा न हो सका। बेटी ने फंदे से लटककर जान दे दी। 

बेटी की मौत से टूटे परिवार के सपने

कोमल लखनऊ स्थित डा. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय से एलएलबी तृतीय वर्ष की छात्रा थी। वह कृष्णा नगर में छात्रावास में रहती थी। तीन दिसंबर को वह कमरे में मृत मिली थी। परीक्षा परिणाम अच्छा न आने से वह अवसाद में थी, ऐसा परिवार के लोगों ने बताया। उसके कमरे में तीन छात्राएं रहती थीं, जिसमें उसके साथ की बाकी दो लड़कियां छुट्टी गई हुई थीं। कोमल कमरे पर अकेली थी। रविवार को दोपहर शव घर लाया गया।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट