प्रयागराज, जेएनएन। संगम नगरी यानी प्रयागराज में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के दौरों के बाद प्रदेश की सियासत गर्म हो रही है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह आ गया है। प्रयागराज में तो मानो नई जान आ गई है। सभी कार्यकर्ता एक स्वर से चुनाव में जीत का दम भरने लगे हैं।

प्रयागराज में यमुनापार के बसवार इलाके में निषाद बस्ती के लोगों को हर तरह से रिझाने का भी प्रयास शुरू हो चुका है। प्रदेश कांग्रेस यहां के मुद्दे को बड़े स्तर से उठाने की कोशिश कर रहा। स्थानीय निषाद समाज के लोगों की आर्थिक सहायता सहित कुछ उपहार देकर भी अपनी तरफ करने की जुगत भिड़ाई जा रही है। नतीजे कुछ भी हों, सत्ताधारी दल के लोग भी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। कई बड़े नेता अपने अपने ढंग से निशाना भी साध रहे हैं।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस ट्विटर और फ़ोटो खिंचवाने वाले नेताओं की पार्टी है। इससे पहले केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी प्रयागराज दौरे के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधा था। कहा था कि वह पार्टटाइम पालटिक्स और फूल टाइम ड्रामा करती हैं। रूम में टोपी और सड़क पर तिलक लगा कर सभी जो बरगलाने का काम करती हैं।

इसी क्रम में भाजपा के महानगर अध्यक्ष ने भी सवाल उठाया था कि प्रियंका गांधी वाड्रा प्रयागराज में अपने दादा फिरोज गांधी की मजार पर कभी क्यों नहीं जातीं। आखिर अपने परिवार के सदस्य को क्यों छोड़ रखा है।  महानगर अध्यक्ष ने कहा कि जनता सब जानती है। इनके सभी दाव-पेच समझ गई है। अब बहकावे में कोई नहीं आने वाला। किसान आंदोलन ने भी इनको खूब बेनकाब किया है। अब साफ हो चुका है कि राष्ट्र द्रोहियों के साथ कांग्रेस जा रही है। आने वाले सभी चुनाव में जनता इनको जवाब देगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021