प्रयागराज, जेएनएन : सिविल लाइंस रेलवे स्टेशन परिसर में कैश वैन से 1.52 करोड़ रुपये चुराने के मामले में गिरफ्तार तमिलनाडु के गिरोह के तीन-चार अपराधियों को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेगी। उन्हें तमिलनाडु ले जाकर पैसे बरामद करने के प्रयास किए जाएंगे। मामले में अभी तीन लोगों की गिरफ्तारी भी होनी है।

क्राइम ब्रांच ने दबोचा था शातिरों को

तीन अक्तूबर को कैश वैन से 1.52 करोड़ रुपये से भरा बक्सा चुराने के मामले में क्राइम ब्रांच इंटेलीजेंस विंग प्रभारी बृजेश सिंह ने पुलिस टीम के साथ मिलकर एक महिला समेत नौ अपराधियों को पकड़ा है। तमिलनाडु में त्रिचिरापल्ली जनपद का यह गिरोह बेहद शातिर है जो देश भर में घूमकर चोरी, टप्पेबाजी और जेबकतरी करता है। बिना कोई तैयारी के ये अपराधी मिनटों में वारदात करने में माहिर हैं।

बनारस से ट्रेन से भागे थे तमिलनाडु

स्टेशन परिसर में भी इस गिरोह ने मौका देखकर आनन-फानन में चोरी अंजाम दी थी। इसके बाद ऑटो, विक्रम, मैजिक गाड़ी के जरिए फाफामऊ की तरफ हाइवे पर पहुंचे और बस से बनारस चले गए। वहां से रात में ही ट्रेन से पश्चिम बंगाल और फिर तमिलनाडु निकल गए थे। पकड़े गए नौ लोगों से पुलिस महज 10 लाख रुपये बरामद कर सकी है जबकि चोरी हुए हैं 1.52 करोड़ रुपये।

कस्‍टडी रिमांड पर लेकर पुलिस बरामद करेगी शेष रकम

सिविल लाइंस थाना प्रभारी आरपी सिंह ने बताया कि जल्द ही कोर्ट से अनुमति लेकर जेल में बंद तीन-चार अभियुक्तों को कस्टडी रिमांड पर लिया जाएगा। उन्हें तमिलनाडु ले जाकर बाकी 1.42 करोड़ रुपये बरामद करने की कोशिश की जाएगी। साथ ही फरार चल रहे तीन अन्य बदमाशों को पकडऩे का प्रयास भी किया जाएगा।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस