प्रयागराज, जागरण संवाददाता। गैंगस्टर एक्ट के तहत प्रयागराज पुलिस ने जिस संपत्ति को कुर्क करते हुए नोटिस बोर्ड लगाया था, उसे कुछ लोगों ने उखाड़ दिया है। इसके बाद सरकारी संपत्ति को अपने कब्जे में ले लिया। इसका पता चलने पर पूरामफ्ती पुलिस ने जेल में बंद ब्लाक प्रमुख व कुख्यात गो तस्कर मुजफ्फर सहित नौ के खिलाफ मुकदमा कायम किया है। एफआइआर बमरौली चौकी में तैनात सिपाही योगेश कुमार की तहरीर पर लिखी गई है।

क्‍या कहते हैं थानाध्‍यक्ष पूरामुफ्ती : थानाध्यक्ष पूरामुफ्ती उपेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई तेज होते ही ब्‍लाक प्रमुख व गो तस्‍कर मुजफ्फर के भाई अकरम ने चफरी नवाबगंज निवासी अपने रिश्तेदार मो. सैफ को एक भूखंड बेच दिया था। बमरौली उपरहार स्थित उस भूखंड को भी जिला मजिस्ट्रेट के आदेश पर पांच अगस्त 2022 को जब्त किया गया था।

इन लोगों पर दर्ज हुआ मुकदमा : भूखंड पर जब्तीकरण से संबंधित नोटिस बोर्ड भी लगाया गया था। हालांकि इसी बीच कुछ लोगों ने बोर्ड को उखाड़ते हुए जमीन पर कब्जा कर लिया। छानबीन में पता चला कि जेल में बंद मुजफ्फर के साथ मिलकर साजिश की गई और फिर बोर्ड को तोड़ दिया गया। इसी आधार पर मुजफ्फर व उसके भाई असलम, अनवर उर्फ भाेंदू, आजम, मुअज्जम, अशरफ उर्फ छोटे, जावेद और रिश्तेदार मो. सैफ के खिलाफ मुकदमा कायम किया गया है। मुकदमे की विवचेना करते हुए आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Brijesh Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट