प्रयागराज,जेएनएन । समाज को अपराध व भयमुक्त बनाने लिए पुलिस विभाग को 374 नए सिपाही मिल गए हैं। पुलिस लाइन और चतुर्थ वाहिनी पीएसी में सोमवार को पासिंग आउट परेड हुई जिस में शामिल पुरुष और महिला रिक्रूट सिपाहियों के जोश, जज्बे और अनुशासन को देखकर किसी ने सलाम किया तो किसी ने तालियां बजाकर हौसला आफजाई की।

एडीजी जोन सुजीत पांडेय ने ली परेड की सलामी

पुलिस लाइन मैदान में महिला रिक्रूट सिपाहियों की सलामी बतौर मुख्य अतिथि एडीजी जोन सुजीत पांडेय ने ली, जबकि चतुर्थ वाहिनी में पूर्वी जोन के आइजी बीआर मीणा ने सलामी लेते हुए जवानों को संविधान में निहित कर्तव्य की शपथ दिलाई। 2019 बैच के रिक्रूट सिपाहियों की अलग-अलग टोली बनाई गई। अब 197 पुरुष व 177 महिला सिपाही और पुलिस बल में शामिल हो गए हैं, जिन्हें अलग-अलग जिलों में तैनाती मिलेगी। पासिंग आउट परेड को सुंदर और बेहतर बनाने में एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज, एसपी रिक्रूट ट्रेनिंग सेंटर (आरटीसी) आशुतोष द्विवेदी, सीओ लाइन रत्नेश सिंह, सेनानायक ओपी यादव, मोनिका चड्ढा सहायक सेनानायक बीएल यादव व प्रतिसार और आरटीसी निरीक्षक सजग रहे।

छह माह की इनडोर व आउटडोर ट्रेनिंग

आरटीसी में छह माह की ट्रेनिंग में इनडोर ट्रेनिंग में पुलिस का इतिहास, संगठन, पुलिस विज्ञान, रेगुलेशन, आपदा प्रबंधन, रेडियो, बंदी स्कोर्ट, संविधान, बाल संरक्षण, भारतीय दंड संहिता, दंड प्रक्रिया संहिता, कंप्यूटर ज्ञान, विधि विज्ञान व चिकित्सा शास्त्र पढ़ाया गया। आउटडोर में पदाधि, शस्त्र व जंगल प्रशिक्षण, फील्ड क्राफ्ट एवं टेक्टिस, भीड़, यातायात नियंत्रण, आतंकवाद- डकैती निरोधक प्रशिक्षण, तलाशी अभियान व साक्षात्कार के बाद काम के तरीके सिखाए।

बेहतरीन ट्रेनिंग देने पर दिया गया सम्मान

बेहतर ट्रेनिंग देने पर एडीजी जोन ने आरटीसी प्रभारी श्रवण कुमार पांडेय, मेजर परवेज अली व राजीव शुक्ल, राकेश कुमार मिश्र, निर्मल कुमार मिश्र को सम्मानित किया। इंस्पेक्टर रुचि दीप, एसआइ विद्या यादव व सरिता यादव की अधिकारियों ने प्रशंसा की। यहां चंदौली, बांदा और कौशांबी जिले की रिक्रूट महिला सिपाहियों को ट्रेनिंग दी गई थी। पीएसी में प्रशिक्षक यादव जनार्दन यादव, विपिन त्रिवेदी व सर्वश्रेष्ठ शिक्षक इंस्पेक्टर राम सुमेर को भी सम्मानित किया गया।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस