प्रयागराज : हाईकोर्ट के अधिवक्ता से रंगदारी मांगने और न मिलने पर फायङ्क्षरग करने का आरोपी पूर्व सांसद का बेटा शिवांग गिरफ्तार हो गया। शिवांग को पुलिस पिछले दो महीने से तलाश कर रही थी। उसे बुधवार दोपहर म्योराबाद इलाके से पकड़ा गया।

 पूर्व बसपा सांसद सुरेश पासी का बेटा शिवांग कैंट थाने का हिस्ट्रीशीटर और टॉप टेन अपराधियों में शामिल है। वह म्योराबाद में गणेशनगर मोहल्ले का निवासी है। करीब दो माह पहले हाईकोर्ट के अधिवक्ता शरद यादव ने उस पर रंगदारी मांगने और फायङ्क्षरग करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद ही वह फरार हो गया और पुलिस उसे तलाश नहीं पाई थी। कैंट पुलिस को अब उसे गिरफ्तार करने में सफलता मिल पाई है। उसके पास से तमंचा व कारतूस भी बरामद हुआ है। इंस्पेक्टर आरएस रावत ने बताया कि शिवांग के खिलाफ कई आपराधिक मुकदमे हैं। दो साल पहले दिनदहाड़े पुलिस मुठभेड़ में भी उसे पकड़ा गया था। फिलहाल गिरफ्तारी के बाद शिवांग को जेल भेज दिया गया है।

शिक्षिका के अपहरण की दी तहरीर

प्रतापगढ़ जनपद में कुंडा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती प्राइवेट विद्यालय में शिक्षिका है। 24 दिसंबर को वह विद्यालय पढ़ाने गई हुई थी, जहां से वह लौटकर घर नहीं आई। बेटी के घर न आने पर परिजन परेशान उसकी खोजते हुए विद्यालय गए, लेकिन पता चला कि वह वहां से छ़ुट्टी होने के बाद चली गई। परिजन जब आसपास के गांवों में खोजबीन करना शुरू किया तो पता चला कि एक युवक ने अपने साथियों के साथ उसका अपहरण कर लिया है। शिक्षिका की मां ने कुंडा कोतवाली को तहरीर दी है। कोतवाल एके मिश्रा का कहना है कि मामला संज्ञान में है।  पता चला है कि दोनों शादी कर चुके हैं और बालिग हैं।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस