प्रयागराज,जेएनएन । स्वास्थ्य विभाग में दिन प्रतिदिन तरह-तरह की योजनाएं लागू की जाती हैं, लेकिन हकीकत में मानी‍टरिंग न होने से इसका लाभ जरूरतमंदों को नहीं मिल पाता। कागज पर जो रिपोर्ट बनाकर उच्चाधिकारियों को भेज दी जाती है वही सही मान लिया जाता है। अब इस अव्यवस्था को खत्म करने के लिए सरकार ने सबकुछ पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश दिया है।

अब मौके से पोर्टल पर अपडेट करनी होगी रिपोर्ट

शासन की पहल पर जनपद की सभी एएनएम व ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर को टेबलेट दे दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से संचालित योजनाएं जो कागजों पर दी जाती थी उसे तत्काल मौके से पोर्टल पर अपलोड करना होगा। जैसे टीकाकरण अभियान के लिए बच्चों को पोलियो आदि की खुराक पिलाई जाती है तो उसे पोर्टल पर अपलोड करना होगा। शासन स्तर पर बनाए गए इस पोर्टल को स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी भी देख सकेंगे। कितने बच्चों का टीकाकरण हुआ या कितने बच्चे अभी टीकाकरण से वंचित रह गए इसकी जानकारी इसी पोर्टल के जरिए आसानी से की जा सकती है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक विनोद कुमार सिंह ने बताया कि इसके लिए टेबलेट आदि वितरित किया गया है ताकि पूरा रिकार्ड पोर्टल पर अपलोड किया जा सके।

अपने बच्चों को पिलाएं विटामिन ए की खुराक

नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से अभियान चलाया जा रहा है। 18 दिसंबर से आरंभ हुए इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता बच्चों को चिह्नित कर यह दवा पिलाएंगे। यह अभियान 18 जनवरी तक चलाया जाएगा। अभियान के तहत जनपद में करीब पांच लाख बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

Edited By: Brijesh Srivastava