प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में भी असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए एकेडमिक परफॉर्मेस इंडेक्स (एपीआइ) स्कोर का नए सिरे से निर्धारण होगा। यह अहम बदलाव यूजीसी रेगुलेशन-2018 के तहत किया गया है।
 दरअसल, ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज और सीएमपी में भी शिक्षकों की भर्ती होनी है। यहां भी यूजीसी रेगुलेशन-2018 के तहत भर्ती प्रक्रिया संपन्न होगी। शिक्षक भर्ती में एपीआइ स्कोर के आधार पर ही अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। अब तक एपीआइ स्कोर में हाईस्कूल और इंटर के अंक भी जोड़े जाते थे। यूजीसी रेगुलेशन-2018 के तहत किए गए अहम बदलाव में हाईस्कूल और इंटर के अंक एपीआइ स्कोर में शामिल नहीं किए जाएंगे। अब केवल स्नातक, परास्नातकएवं इससे ऊपर के पाठ्यक्रमों के अंक व अनुभव के अंक एपीआई स्कोर में जोड़े जाएंगे। एपीआइ स्कोर अधिकतम 100 अंकों का होगा।

ऐसे होगा निर्धारण
स्नातक में 80 फीसदी से अधिक अंक पाने पर अधिकतम 21 अंक, 60 से 80 फीसदी पर 19, 60 से 55 फीसदी पर 16 और 55 से 45 फीसदी पर 10 अंक मिलेंगे। इसी तरह, परास्नातक में 80 फीसदी से अधिक 25 अंक, 80 से 60 फीसदी पर 23 अंक, 60 से 55 फीसदी पर 20 अंक मिलेंगे। एमफिल में 60 फीसद से अधिक पर सात अंक, 60 से 55 फीसद पर पांच अंक मिलेंगे। पीएचडी में 30 अंक मिलेंगे। वहीं, जेआरएफ के लिए 10, नेट के लिए आठ और स्लेट/सेट के लिए अधिकतम पांच अंक निर्धारित होंगे। रिसर्च पब्लिककेशन के लिए अधिकतम छह अंक होंगे। टीचिंग एवं पोस्ट डॉक्टोरल अनुभव पर अधिकतम दस अंक होंगे। इंटरनेशनल/नेशनल अवार्ड के लिए अधिकतम तीन एवं राज्य स्तरीय अवार्ड के लिए अधिकतम दो अंक होंगे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप