प्रयागराज, जेएनएन। मौनी अमावस्या स्नान को सकुशल सम्पन्न कराने की तैयारी में लगे प्रयागराज कुंभ मेला प्रशासन ने आज बड़ा हादसा टाल दिया। यहां किला घाट से जाते समय में संगम के पास एक नाव असंतुलित होकर पलट गई। जिसमें सवार नौ लोग गिर गए।

इसके बाद तत्काल एक्शन में आए पीएसी व पुलिस के गोताखोरों ने सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। इन सभी को बोट एम्बुलेंस से इलाज के लिए मेला परिसर के अस्पताल में भेजा गया है।प्रशासन ने सुरक्षित निकाले गए सभी श्रद्धालुओं को प्राथमिक चिकित्सा के लिए अस्पताल रवाना कर दिया। महिला की मेला के केंद्रीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कुंभनगर में कुशीनगर के पडरौना से आए नौ लोगों से भरी नाव संगम की धारा में असन्तुलित होकर पलट गई। सवार सभी नौ लोग डूबने लगे। यहां पर चीख-पुकार मचने पर मौके पर तैनात एनडीआरएफ और जल पुलिस की टीम ने सभी को बचा लिया।

एक महिला और पुरुष को गंभीर हालत होने के चलते भर्ती कराया गया है। इन सभी को वॉटर एम्बुलेंस से कुंभनगर के अस्पताल भेजा गया है। इस नाव में 12 लोग सवार थे। अब एनडीआरएफ की टीम उस नाव की तलाश में जुटी हुई है। 

मेला पुलिस ने बताया नाव दुर्घटना की सूचना असत्य

कुंभ मेला पुलिस ने बताया कि संगम में नाव डूबने की सूचना असत्य है। सीओ जल पुलिस ने बताया कि संगम नोज पर नाव खड़ी थी। जिससे करीब 10-12 श्रृद्धालु स्नान करने आये थे। इनमें से एक महिला श्रृद्धालु एक से दूसरी नाव पर जाने लगी तो उनका पांव फिसल गया। जिससे वह फिसल गईं, उनको नीचे से निकालने के लिए नाव में बैठे अन्य लोग भी एक ओर झुक गए। जिससे नाव एक ओर पलट गयी। इसके बाद पीएसी एवं जल पुलिस ने तत्काल नाव को सीधा कराया और सकुशल सभी को स्नान कराया गया। नाव जहां पर पलटी थी, वहां पर सिर्फ घुटने भर पानी था। वहां पर नाव डूबने की कोई दुर्घटना नहीं हुई है।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप