प्रयागराज, जेएनएन। नगर निगम चुनाव के लिए वार्डों के परिसीमन की सूचना सोमवार को शासन ने जारी कर दिया। सीमा विस्तार होने से 100 वार्डों का गठन किया गया है। परिसीमन जारी होने के बाद अब सभी उम्मीदवारों की निगाहें वार्डों के आरक्षण पर टिक गई है। रैपिड सर्वे पहले ही कराया जा चुका है।

इसी हफ्ते शासन को भेजी जाएगी रैपिड सर्वे की रिपोर्ट

30 सितंबर तक रैपिड सर्वे की रिपोर्ट शासन को भेज दी जाएगी। रिपोर्ट के सात दिनों के भीतर वार्डों के आरक्षण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। नगर निगम केे अधिकारियों कि मानें तो इस बार 40 से 42 प्रतिशत वार्डों के आरक्षण में फेर बदल होगा। परिसीमन जारी होने के बाद मंगलवार को आरक्षण को लेकर नगर निगम परिसर में गहमा-गहमी तेज रही।

एक सप्ताह में शुरू होगा मतदाताओं का सत्यापन

नगर निगम के चीफ इंजीनियर सतीश कुमार का कहना कौन सा मोहल्ला किस वार्ड में शामिल किया गया है। इसकी सूची तैयार की जाएगी। उसके बाद वोटर लिस्ट तैयार करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। बताया कि एक माह के भीतर निकाय चुनाव की तैयारियों को पूरा कर लिया जाएगा।

कोर्ट जाने की तैयारी में है कई पार्षद 

परिसीमन जारी होने से कई पार्षद नगर निगम के अधिकारियों पर मनमानी करने का आरोप लगाया है। पार्षद अतहर रजा लाडले, आकाश साेनकर सहित कई पार्षद अब जारी किए गए परिसीमन को असंतुष्टि दिखाते हुए कोर्ट में याचिका दायर करने की बात कह रहे हैं।

अतहर रजा लाडले का कहना है कि नगर निगम के अभिलेख में अकबर पुर नाम का कोई मोहल्ला नहीं दर्ज है। इसके बावजूद वार्ड पुरा मनोहर दास में इस मोहल्ले को दर्ज किया गया है।

Edited By: Ankur Tripathi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट