प्रयागराज,जेएनएन । मानस मर्मज्ञ मोरारी बापू शुक्रवार दोपहर प्रयागराज पहुंचे। दोपहर वह विमान से प्रयागराज एयरपोर्ट पर उतरे। यहां मोरारी बापू का भव्‍य स्‍वागत किया गया। इसके बाद वह अरैल स्थित कथा स्‍थल के लिए रवाना हुए। चर्चा है कि बापू एयरपोर्ट से सीधे संगम पहुंचेंगे। यहां बंधवा हनुमान मंदिर में दर्शन पूजन के बाद अक्षयवट का दर्शन करेंगे। इसके बाद कथा स्‍थल पर जाएंगे। रामकथा 29 फरवरी से 8 मार्च तक चलेगी।

अरैल में मोरारी बापू की श्रीराम कथा कल से

शनिवार वह दिन होगा जब पूरी दुनिया प्रयागराज से अक्षयवट का महात्म्य जानेगी। क्योंकि 29 फरवरी को मानस मर्मज्ञ मोरारी बापू यहां अरैल क्षेत्र से श्रीराम कथा की शुरुआत करेंगे। श्रीराम कथा का भव्य आयोजन संत कृपा सनातन संस्थान ट्रस्ट राजस्थान की ओर से कराया जा रहा है। गुरुवार को कथा स्थल पर ध्वजा चढ़ाई गई। वैदिक मंत्रो'चार के बीच वेदपाठियों ने विशेष पूजा करके ध्वजा स्थापित कराई। शुक्रवार को बापू के प्रयागराज पहुंचने के पहले तैयारियों को अंतिम रूप दिया जाता रहा है। कथा स्‍थल पर भव्‍य पंडाल का बनाया गया है। भक्‍तों को गर्मी न लगे। इसके लिए उन पर फव्‍वारे से पानी की फुहारे डाली जाएंगी।

ख्यातिलब्ध कलाकार देंगे सांस्कृतिक प्रस्तुतियां

मोरारी बापू की इस राम कथा में ख्यातिलब्ध कलाकार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे। आठ मार्च तक कथा के अलावा धार्मिक सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की धूम रहेगी। कथा पहले दिन शाम चार से सात बजे तक और अन्य दिनों में सुबह 9.00 बजे से 1.00 बजे तक होगी। कथा का टीवी लाइव प्रसारण 260 से अधिक देशों में एक साथ आस्था चैनल पर भी किया जाएगा।

हाउस बोट कैलास करेंगे रात्रि विश्राम

श्री राम कथा सुनाने के लिए मोरारी बापू शुक्रवार को प्रयागराज पहुंचे। बापू का रात्रि विश्राम कथा स्थल के समीप ही गंगा नदी में व्यवस्थित किए गए हाउस बोट कैलास में होगा।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस