प्रयागराज, जेएनएन। विधायक जवाहर पंडित की हत्या के मामले में 23 साल बाद आए निर्णय से भाजपा विधायक नीलम करवरिया आहत हैं। उन्होंने अपनी बेटी समृद्धि की शादी टाल दी है। अगले माह दिसंबर में ही विवाह होना तय था।

जवाहर हत्याकांड मामले में करवरिया बंधुओं को अदालत ने दोषी करार दिया

झूंसी विधानसभा क्षेत्र के विधायक जवाहर यादव उर्फ पंडित की सिविल लाइंस में 13 अगस्त वर्ष 1996 को हत्या कर दी गई थी। अत्याधुनिक असलहे एके-47 से गोलियां चलाईं गई थीं। इस मामले में 31 अक्टूबर को पूर्व सांसद कपिलमुनि करवरिया, पूर्व विधायक उदयभान करवरिया और पूर्व विधान परिषद सदस्य सूरजभान करवरिया निवासीगण खुशहाल पर्वत, अतरसुइया तथा उनके बुआ के बेेटे रामचंद्र त्रिपाठी निवासी गौसनगर को अदालत ने दोषी करार दिया। इस मामले में विधायक जवाहर के भाई सुलाकी यादव ने उक्त आरोपितों के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। हालांकि वादी मुकदमा सुलाकी यादव का कुछ वर्ष पहले निधन हो गया था।

विधायक नीलम समेत परिवार के लोग आहत हैं

पूर्व विधायक उदयभान करवरिया की पत्नी व मेजा से भाजपा विधायक नीलम करवरिया ने बताया कि इस निर्णय से पूरा परिवार आहत है। बताया कि करवरिया बंधुओं के तीन-तीन बच्चे हैैं। कपिलमुनि की बड़ी बेटी प्रतिभा की शादी हो चुकी है। दूसरी बेटी मीनाक्षी एमबीए कर चुकी हैैं जबकि अचिंत्य स्नातक की पढ़ाई कर रहे हैैं। उदयभान की बड़ी बेटी समृद्धि ने बीकॉम के बाद एलएलबी किया हैै। जबकि साक्षी परास्नातक की पढ़ाई कर रही हैैं। बेटा सक्षम नवीं कक्षा में है। सूरजभान करवरिया की बेटी गरिमा एमबीए कर रही है जबकि बेटे गौरव एलएलबी की शिक्षा ले रहे हैैं। छोटा बेटा गौतम आठवीं कक्षा में हैैं।

अगले साल करेंगी बेटी की शादी

विधायक नीलम ने बताया कि बड़ी बेटी समृद्धि की शादी जयपुर में तय की है। एमबीए करने के बाद लड़के ने नोएडा में रेस्टोरेंट खोल रखा है। लड़के वाले नोएडा में ही सेटेल्ड हैैं। दिसंबर में ही विवाह होना था। तैयारियां शुरू हो गई थीं। उन लोगों को पूरी उम्मीद थी कि फैसला उनके पक्ष में आएगा, मगर ऐसा न होने के कारण अब शादी की तारीख आगे बढ़ा दी गई। फैसले के दूसरे दिन शुक्रवार को लड़के वाले आए थे। उन लोगों का भी पूरा सपोर्ट है। विधायक ने बताया कि अब बेटी की शादी अगले साल करेंगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021