प्रयागराज,जेएनएन : अल्लापुर में मीटर रीडिंग में गड़बड़ी के आरोप में मीटर रीडर धनंजय गुप्ता के खिलाफ एफआइआर की कार्रवाई के खिलाफ सोमवार को रामबाग खंड के मीटर रीडरों ने काम नहीं किया। रीडिंग लेने वाली एजेंसी एन साफ्ट के सुपरवाइजर ने एक्सईएन से मिलकर लिखित शिकायत की कि उनके मीटर रीडर को गलत फंसाया गया है।

अधिशासी अभियंता रामबाग राकेश कुमार वर्मा ने बताया कि मंगलवार से वह विभाग के स्टॉफ से ही मीटर रीडिंग कराएंगे। इसके लिए स्टॉफ को चिह्नित कर लिया गया है। बिलिंग एजेंसी एन साफ्ट को काली सूची में डाला जाएगा। यह भी कहा कि एजेंसी के लोग ब्लैकमेल कर रहे हैैं जो विभाग बर्दाश्त नहीं करेगा।

मामला रामबाग खंड के अल्लापुर का है। मीटर रीडर की शिकायत मिलने पर 18 अक्टूबर को अल्लापुर के अवर अभियंता सुशील कुमार ने उपभोक्ता मदन लाल अग्रवाल के भार की जांच की थी। मीटर में 83281 तथा बिल में 74031 यूनिट रीडिंग पाई गई। ठीक 92251 की रीडिंग का अंतर पाया गया था। मीटर में डिमांड भी 4.6 किलोवाट का पाया गया जबकि लोड चार किलोवाट का ही है। इस प्रकार से विभाग को रीडिंग स्टोर होने से ही लगभग 66 हजार रुपये की राजस्व हानि हुई। एक्सईएन ने बताया कि बिलिंग एजेंसी के सुपरवाइजर से मीटर रीडर के खिलाफ कार्रवाई को कहा मगर उन्होंने कुछ नहीं किया। इस पर जेई ने जार्जटाउन थाने में रविवार को मीटर रीडर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप