प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़ जनपद में कुंडा कोतवाली क्षेत्र के बाबूगंज मझिल गांव में बुधवार की दोपहर हादसा हो गया। निर्माण के दौरान शौचालय की एक दीवार भरभराकर गिर गई। इसकी जद में आने से राजमिस्त्री व दो मजदूर आ गए। मलबा हटाकर ग्रामीणों ने तीनों को बाहर निकाला। गंभीर अवस्था में उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने राजमिस्त्री को मृत घोषित कर दिया। वहीं अन्य दौ मजदूरों का इलाज हो रहा है।

बाबूगंज मझिल गांव में शौचालय निर्माण का कार्य किया जा रहा था

बाबूगंज मझिल निवासी रामबाबू जायसवाल अपने घर के सामने शौचालय का निर्माण करा रहे थे। शौचालय निर्माण में कोतवाली क्षेत्र के बसहीपुर गांव निवासी राम बहादुर 62 पुत्र रामनाथ राजमिस्त्री का काम कर रहा था। बुधवार की दोपहर करीब 12 बजे शौचालय के गड्ढे में निर्माण कार्य किया जा रहा था। इसी दौरान शौचालय की एक दीवार भरभरा कर गिर पड़ी। इसकी चपेट में वहां काम कर रहे रामबहादुर समेत तीरथ लाल पटेल 29 पुत्र सुखदेव प्रसाद निवासी झकरही और ओमप्रकाश 50 निवासी जमेठी महाजन का पुरवा आकर गंभीर रूप से घायल हो गए।

ग्रामीणों ने गड्ढे में दबे लोगों को बाहर निकाल अस्‍पताल पहुंचाया

हादसा देख वहां मौजूद लोग व ग्रामीणों ने राहत कार्य शुरू किया। उन्होंने राजमिस्त्री समेत मजदूरों को शौचालय के गड्ढे से बाहर निकाला। घायलों को इलाज के लिए तत्काल सीएचसी कुंडा ले जाया गया। वहां इलाज के दौरान चिकित्सकों ने रामबहादुर को मृत घोषित कर दिया। वहीं अन्य घायलों को इलाज के लिए भर्ती किया गया। इधर जानकारी होने पर राम बहादुर के रोते-बिलखते परिजन भी वहां पहुंच गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। फिलहाल अभी तक पुलिस को मामले की तहरीर नहीं दी गई है।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप