जागरण संवाददाता, इलाहाबाद : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर विज्ञान परिषद में कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसमें महिलाओं को स्वावलंबन के प्रति प्रेरित किया गया।

महिला अधिकार संगठन के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति सुधीर नारायण ने कहा कि महिलाओं में जागरूकता एवं शिक्षा की कमी धीरे-धीरे दूर हो रही है। वह आत्मनिर्भर बन रहीं हैं। विशिष्ट अतिथि योग गुरु आनंद गिरि महाराज ने कहा कि मातृ शक्ति से ही समाज का सृजन है। इसलिए नारी सदैव पूज्य रहीं हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता संगठन की अध्यक्ष मंजू पाठक ने किया। इसके पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत सांस्कृतिक आयोजनों से हुई। आरएस वर्मा, डॉ. मंजू सिंह, ललिता यादव, अमिता मिश्रा, डॉ. नीता साहू, डॉ. पीके सिन्हा, सुरेश तोमर, संतोष कुमार श्रीवास्तव आदि ने भी विचार रखे।

इस दौरान महिला उत्थान के लिए कार्य करने वाली 45 महिलाओं को सम्मानित किया गया। इनमें जयश्री श्रीवास्तव, उजमा जुबेर, समृति श्रीवास्तव आदि प्रमुख रहीं। कार्यक्रम का संचालन श्याम सुंदर पटेल ने किया।

महिलाओं के हाथों को सशक्त करेगा रेलवे

जासं, इलाहाबाद : महिलाओं के हाथों को सशक्त करने के लिए रेलवे भी लगा हुआ है। यात्रा के दौरान महिलाओं को मासिक धर्म शुरू होने पर परेशानी होती है। महिला शर्म के कारण कुछ नहीं बताती हैं। उनकी सुविधा के लिए भारतीय रेलवे स्टेशनों पर नेपकिन मशीन लगा रहा है। उत्तर मध्य रेलवे में आगरा स्टेशन पर यह मशीन लग गई है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस यानी गुरुवार को इलाहाबाद जंक्शन और कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर इस मशीन का उद्घाटन हो जाएगा। महिलाओं को महिला वेटिंग हाल में निश्शुल्क नैपकिन मिलेगा। चाइल्ड लाइन की टीम महिलाओं की मदद करेगी। बमरौली रेलवे स्टेशन पर जल्द सभी महिला कर्मचारियों को तैनात किया जाएगा। वहीं इलाहाबाद जंक्शन के स्टेशन डायरेक्टर पीके शर्मा ने बताया कि गुरुवार को एनसीआर जीएम की पत्‍‌नी अमिता चौहान ऑटोमेटिक सेनेटरी नेपकिन डिस्पेंसर मशीन और स्तनपान के लिए बनाए गए नए चैंबर का उद्घाटन का करेंगी। रेलवे द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है।

----

दो दिन महिलाओं के लिए मुफ्त रहेंगे शौचालय

इलाहाबाद : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में आठ और नौ मार्च को नगर निगम सीमा क्षेत्र के सभी सार्वजनिक और सामुदायिक शौचालयों में महिलाओं का प्रवेश मुफ्त रहेगा। महापौर अभिलाषा गुप्ता के निर्देश पर महिलाओं की सुविधा के लिए निगम मुख्यालय स्थित जनसंपर्क कार्यालय में महिला प्रकोष्ठ बनाने का निर्णय हुआ है। कार्यालय अधीक्षक अनुपमा श्रीवास्तव की उसमें ड्यूटी लगाई गई है। उनका मोबाइल नंबर 9119803031 है।

अपने अधिकारों के प्रति रहें जागरूक

वि. इलाहाबाद : प्रदेश की कैबिनेट मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि महिलाओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है। हमेशा अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते रहें। वह बुधवार को शभूनाथ इंस्टीट्यूट में महिला दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहीं थीं।

उन्होंने कहा कि आज महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। डॉ. जोशी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया। डॉ. अमिता त्रिपाठी ने स्वास्थ्य संबंधी जानकारी दी। मुख्य प्रशासनिक अधिकारी प्रो. आरके सिंह ने उन्हें अंगवस्त्रम व स्मृति चिह्न प्रदान किया। स्वागत डॉ. केके तिवारी व संचालन वरिष्ठ प्रोफेसर हेमलता श्रीवास्तव ने किया। इसमें डॉ. रजनी त्रिपाठी, डॉ. निधि भठ्ठ आदि मौजूद रहीं।

छेड़खानी के मामले में चुप्पी तोड़ना बेहतर

जागरण संवाददाता, इलाहाबाद : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर नगर के विभिन्न महाविद्यालयों में आयोजन हुए। इस दौरान घरेलू हिंसा संरक्षण अधिनियम पर चर्चा की गई। साथ ही महिलाओं को नई उड़ान भरने की जरूरत बताई गई।

एसएस खन्ना महिला महाविद्यालय में स्त्री चेतना की नई उड़ान विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। प्राचार्या डा. लालिमा सिंह ने कहा की स्त्री ईश्वर का सुंदर उपहार है। वह प्रकाश का स्त्रोत है, जिसे नई उड़ान भरने की आवश्यकता है। अतिथि वक्ता व पूर्व आयुक्त बादल चटर्जी ने कहा कि परंपरा और रूढि़यों के नाम पर महिलाएं अपनी प्रगति में अवरोध उत्पन्न करती हैं। विकास के लिए महिलाओं को समय के अनुरूप महिलाओं को खुद आत्मनिर्भर और आत्मबल प्राप्त करना होगा। डॉ. अंजू गुप्ता ने कामकाजी और घरेलू महिलाओं के महत्व पर प्रकाश डाला। थाना अध्यक्ष अतरसुइया, प्रभात कुमार ने महिलाओं की सुरक्षा से संबंधित प्रदेश सरकार द्वारा 1090 एवं 100 नंबर डायल की महत्ता पर प्रकाश डाला। संचालन डॉ. नीरजा सचदेव ने किया। कृष्णा बनर्जी, डॉ. मंजरी शुक्ला, डॉ. ज्योति कपूर, डॉ. रचना आनंद गौड़, डॉ. रीतू जायसवाल, डॉ. संध्या अरोरा, डॉ. रुचि गुप्ता आदि उपस्थित रहीं।

इसी क्रम में राजर्षि टंडन महिला महाविद्यालय में घरेलू हिंसा संरक्षण अधिनियम पर चर्चा की गई। छात्राओं को अपने अधिकार एवं कर्तव्यों को पहचाने और जागरूक बनने पर जोर दिया गया। महिलाओं की सुरक्षा के अधिकारों को मालवीय नगर चौकी प्रभारी संजय राय ने बताया। कहा कि महिलाओं को डायल-100 नंबर पर महिला पुलिस व हेल्प लाइन नंबर 1090 का बिना खौफ प्रयोग करना चाहिए। कमलापति मिश्र, मो. तारिक, रेखा सिंह, कविता और प्राचार्या डॉ. रंजना त्रिपाठी सहित सभी शिक्षिकाएं एवं छात्राएं उपस्थित रहीं।

दूसरी ओर आर्य कन्या डिग्री कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में मुठ्ठीगंज थानाध्यक्ष निशिकांत राय ने छात्राओं को सुरक्षा से संबधित योजनाओं की जानकारी दी। स्वागत भाषण में कालेज की उप प्रधानाचार्य डॉ. रमा सिंह ने कहा कि नारी आधी आबादी भले ही हो पर शारीरिक रूप से वह कमजोर है। इसलिए उसे जागरूक और सशक्त होने की आवश्यकता है। डॉ. रंजना त्रिपाठी, डॉ. राधारानी, प्रगति मिश्रा, आरुषि मिश्रा आदि छात्राओं ने अपने अनुभव सुनाए। संचालन कल्पना वर्मा ने एवं आभार ज्ञापित डॉ. संध्या श्रीवास्तव ने किया। डॉ. रेनू जैन, डॉ. पुष्पलता अग्रवाल, डॉ. नीलाजना जैन, डॉ. सुमन रानी सिंहा, डॉ. अंजु श्रीवास्तव, डॉ. प्रियंका श्रीवास्तव, डॉ. अमित पांडेय, डॉ. श्रुति आनंद समेत छात्राएं उपस्थित रहीं।

ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज में एएसपी धवल जायसवाल ने महिलाओं के प्रति पुलिस के बेहतर व्यवहार और उनकी समस्याओं को दूर करने की बात कही। प्राचार्य डॉ. आनंद शंकर सिंह ने कहा कि छात्राएं छेड़खानी के मामले में चुप रहने के बजाए पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराएं। संचालन डॉ. सुमन अग्रवाल ने किया। डॉ. गायत्री सिंह, डॉ. अंजना श्रीवास्तव, डॉ. रश्मि जैन, डॉ. शाइस्ता इरशाद, डॉ. दिव्या पांडेय सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहीं।

--------

महिला दिवस-छात्राओं व महिलाओं को खाकी ने किया जागरूक

जागरण संवाददाता इलाहाबाद : महिला दिवस के मद्देनजर खाकी ने भी महिलाओं, छात्राओं की सुरक्षा को लेकर जागरूकता अभियान शुरू कर दिया है। एडीजी एसएन साबत, आइजी रमित शर्मा और एसएसपी आकाश कुलहरि ने अफसरों संग बुधवार को बैठक कर शहर और देहात के सभी स्कूल, कॉलेजों, बाजारों व सिनेमाहालों में छात्राओं, महिलाओं को जागरूक करने, महिलाओं से संबंधित पुलिस की हेल्प लाइन के बारे में जानकारी देने के निर्देश दिए। साथ ही पुलिस अधिकारियों ने छात्राओं के स्कूल-कॉलेज पहुंच उन्हें सुरक्षा के टिप्स दिए।

पुलिस अधिकारियों ने छात्राओं व महिलाओं से छेड़खानी, महिला उत्पीड़न, फोन पर उन्हें परेशान करने जैसे मामलों की जानकारी देते हुए कार्रवाई के बारे में बताया। एसपी सिटी सिद्धार्थ शंकर मीणा, आइपीएस विनीत जायसवाल, आइपीएस माधव सुर्कीति फोर्स के साथ ग‌र्ल्स कॉलेज पहुंचे और छात्राओं को सुरक्षित रहने के टिप्स दिए। कहा कि यदि उन्हें परेशानी हो तो वह 1090 पर काल कर सकती हैं। इसके अलावा किसी भी पुलिस अफसर को फोन कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकती हैं। उनके नाम पते को उजागर नहीं किया जाएगा। इसी प्रकार महिला पुलिस कर्मियों की टीम बनाकर शहर में जागरूकता अभियान चलाया गया। छात्राओं और कामकाजी युवतियों की परेशानियों को सुन उन्हें बचाव और कार्रवाई के टिप्स दिए। कहा कि किसी भी प्रकार की घटना में उन्हें घबराने की जरूरत नहीं, हर पल पुलिस साथ है। न डरें न ही बदनामी की वजह से चुप रहें। आप बस पुलिस को बताएं, पुलिस अपने स्तर से कार्रवाई करेगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021