प्रयागराज, जेएनएन। महाशिवरात्रि पर कुंभ के आखिरी शाही स्नान पर आज प्रयागराज के कुंभनगर में लाखों लोगों ने अभी तक आस्था की डुबकी लगा दी है। कल देर रात से लोगों का रेला यहां पहुंच चुका था। सुबह दस बजे तक साठ लाख लोगों ने पुण्य की डुबकी लगा ली थी।

प्रयागराज कुंभ के आज अंतिम स्नान पर्व महाशिवरात्रि पर श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा है। सुबह से ही त्रिवेणी तट पर श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। स्नान को लेकर मेला प्रशासन ने घाट पर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए हैं। यहां घाटों पर महिला पुलिस से लेकर पैरामिलिट्री फोर्स भी तैनात की गई है। आखिरी शाही स्नान के लिए सुबह से ही काफी संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ घाटों पर उमड़ गई है। माना जा रहा है कि आज भी एक करोड़ से ज्यादा श्रद्धालु संगम में स्नान करेंगे। देश के अलग-अलग कोने से श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगाने के लिए पहुंचे हैं। संगम में स्नान के साथ लोग दान भी करते हैं।

कुंभनगर में करीब आठ किलोमीटर के दायरे में फैले 40 घाटों पर आज आखिरी शाही स्नान हो रहा है। माना जाता है कि आखिरी शाही स्नान में पवित्र नदियों में स्नान करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। आखिरी शाही स्नान के मौके पर लोगों ने मनोकामना की प्राप्ति को लेकर भोर से ही भारी संख्या में पवित्र संगम में स्नान किया और मंदिरों में आराध्य के दर्शन किए।

देशभर में आज महाशिवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। सुबह से ही मंदिरों में भक्तों की लंबी लाइनें लगी हुईं है। महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर शिवभक्त भक्तिमय होकर भगवान शंकर की पूजा कर रहे हैं और शिवलिंग का श्रृंगार कर जलाभिषेक कर रहे हैं। हर-हर महादेव के नारे से गुंजायमान मंदिरों में कतारों में लगे लोग भगवान भोले का अभिषेक करने के लिए इंजतार कर रहे हैं।  

आज का दिन काफी खास

महाशिवरात्रि सोमवार को है। इस कारण यह ज्यादा खास है। इसके अलावा महाशिवरात्रि का व्रत नक्षत्र के हिसाब से मंगलवार, 5 मार्च 2019 तक रखा जाएगा। इस बार संयोग भी काफी अच्छा बन रहा है। इस दिन पूरी भक्ति भावना के साथ जो कोई भी व्रत रखेगा वह कई गुना ज्यादा पुण्य प्राप्त करेगा। महाशिवरात्रि के इस दिन को लेकर अगर आपके मन में संशय है कि इसका शुभ मुहूर्त कब है तो आज हम आपकी यह चिंता भी दूर कर देंगे।

Posted By: Dharmendra Pandey