प्रयागराज, जेएनएन। 44 वर्ष से संगम नगरी में श्रमिकों के लिए काम कर रहा केंद्र सरकार का विभाग श्रम कल्याण संगठन आखिरकार लखनऊ स्थानांतरित हो गया। चार ट्रकों से कार्यालय का सामान लखनऊ भेज दिया गया। दुखी मन से सभी कर्मचारी दिनभर फाइलों और फर्नीचर को ट्रक में लदवाते रहे। 

1978 में श्रम कल्याण संगठन का कार्यालय मम्फोर्डगंज में खोला गया

बीड़ी और खनिज मजदूरों को केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए 1978 में श्रम कल्याण संगठन का कार्यालय मम्फोर्डगंज में खोला गया था। वहां का कार्यालय भवन जर्जर हुआ तो 2018 में इसे सिविल लाइंस के केंद्रीय सदन में लाया गया। केंद्रीय सदन के दो तल में कार्यालय को स्थापित किया गया। उस समय कार्यालय में नए फर्नीचर लगाए गए और अधिकारियों और कर्मचारियों के चेंबर बनवाए गए, जिसमें करीब 10 लाख रुपये खर्च हुआ था। अब चार साल में इसे लखनऊ स्थानांतरित करने में करीब दो लाख रुपये खर्च आया।

कार्यालय में बनाए चैंबर और एल्यूमीनियम वाल (दीवाल) को उखाडऩे के लिए करीब 30 हजार रुपये का ठेका दिया गया। प्लाइवुड की दीवार बनाकर हाल में अगल-अलग कमरे बनाए गए थे, उसे उखाड़ लिया गया है। कार्यालय में रखी अलमारी, फर्नीचर और फाइलों के बंडल को ट्रक में लदवाते समय कर्मचारी भावुक हो गए। कर्मचारियों ने इसे प्रयागराज में ही रुकवाने के लिए केंद्रीय श्रम मंत्री से गुहार लगाई थी लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। कार्यालय में 18 कर्मचारी तैनात हैैं। इन सभी को एक जुलाई को लखनऊ में रिपोर्ट करने को कहा गया था। इस कार्यालय का वित्त विभाग अभी नहीं गया है। उसके लिए दो कर्मचारियों को यहां छोड़ा गया है।

राजकीय महाविद्यालयों के चार प्राचार्य समेत 57 तबादले

राज्य ब्यूरो, प्रयागराज : राजकीय महाविद्यालयों के चार प्राचार्य समेत 57 तबादले हुए हैं। इसमें अधिकतर प्रवक्ता हैं। इनके अलवा कुछ एसोसिएट प्रोफेसर तो कुछ असिस्टेंट प्रोफेसर भी हैं। इन सभी को जल्द नवीन तैनाती स्थल पर कार्यभार ग्रहण करने को कहा गया है।

गुरुवार को उच्च शिक्षा अनुभाग के विशेष सचिव श्रवण कुमार सिंह ने तबादले की सूची जारी की है। प्रशासनिक आधार पर दो प्राचार्यों का तबादला किया गया है। इसमें राजकीय रजा स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामपुर में तैनात प्राचार्य डा. पीके वाष्र्णेय को राजकीय महिला महाविद्यालय बिंदकी फतेहपुर भेजा गया है। राजकीय महिला महाविद्यालय बिल्सी बदायूं में तैनात प्राचार्य डा. वसुधा को रामलुभाई साहनी राजकीय महिला महाविद्यालय पीलीभीत भेजा गया है। इनके अलावा प्रशासनिक आधार पर 23 प्रवक्ताओं के तबादले हुए हैं। शासकीय कार्यहित और जनहित में 30 प्रवक्ता, एसोसिएट प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसरों के तबादले किए गए हैं। हेमवती नंदन बहुगुणा राजकीय पीजी कालेज नैनी प्रयागराज की प्राचार्य डा. सुनंदा चतुर्वेदी को उच्च शिक्षा निदेशालय में संयुक्त निदेशक पद पर भेजा गया है, जबकि संयुक्त निदेशक डा. राजीव पांडेय को राजकीय महाविद्यालय खरखौदा मेरठ का प्राचार्य बनाया गया है।

Edited By: Ankur Tripathi