प्रयागराज, जेएनएन। चकिया के पास जमगल हाता मोहल्ले में रहने वाले सराफा कारीगर प्रवीण सोनी का आठ वर्षीय पुत्र कान्हा गुरुवार शाम घर के बाहर साइकिल चलाते लापता हो गया था। वह रात में फाफामऊ पुलिस को मिला। पुलिस से सूचना पाकर परिजन चौकी जाकर बेटे को ले आए।

घर के बाहर साइकिल चलाते समय कान्हा हुआ था गायब

मंसूराबाद निवासी प्रवीण सोनी चौक स्थित एक ज्वेलरी शोरूम में काम करते हैं। वह जगमल हाता के पास एक मकान में किराए पर रहते हैं। उनका पुत्र प्रभाष उर्फ कान्हा सिविल लाइंस के एक स्कूल में पढ़ता है। गुरुवार शाम करीब सवा पांच बजे वह घर के बाहर साइकिल चलाने निकला था। कुछ देर बाद मां भावना उसे बुलाने निकली पर कान्हा नहीं दिखा। वह मुहल्ले में कहीं नहीं मिला तो पिता प्रवीण को फोन पर बताया गया।

फाफामऊ के मलाका के पास पुलिस को कान्हा साइकिल चलाते दिखा

पिता और मुहल्ले वालों ने दूर-दूर तक खोजबीन कर ली, लेकिन कान्हा का कुछ पता नहीं चला। 100 नंबर पर सूचना देने के बाद धूमनगंज थाने में तहरीर दी गई। इसी बीच रात करीब साढ़े आठ बजे फाफामऊ के मलाका के पास पुलिस को कान्हा साइकिल चलाते दिखा। पुलिस ने रुआंसे बच्चे को पुचकारा, नाम पूछा फिर कंट्रोल रूम को खबर दी। धूमनगंज पुलिस ने कान्हा के पिता प्रवीण को बताया तो परिजनों ने राहत की सांस ली। फाफामऊ पुलिस चौकी जाकर पिता ने पुलिस का आभार जताया और बेटे को घर ले गए।

परिजन समझ नहीं पा रहे कि अकेले 13 किमी दूर साइकिल चलाकर कैसे गया

हालांकि परिजनों के गले यह बात नहीं उतर रही है कि मासूम कान्हा खुद साइकिल चलाकर 13 किलोमीटर दूर जा सकता है। रास्ते में दो पुल भी पार करने पड़े। ऐसे में शक है कि उसे कार में बैठाकर ले जाया गया होगा।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस