प्रयागराज, जेएनएन। अयोध्या मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी होने के बाद खुफिया एजेंसियां भी सतर्क हो गई हैं। पुलिस के अधिकारी अब सेना से भी समन्वय स्थापित कर हर तरह का इनपुट जुटा रहे हैं ताकि संदिग्ध लोगों की गतिविधि पर पैनी नजर रखते हुए आवश्यकता अनुसार कार्रवाई की जा सके।

फूलपुर और करेली इलाके का आतंकियों से भी पुराना कनेक्शन रहा है

अयोध्या मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी होने के मद्देनजर पुलिस का ज्यादा जोर जिले की मिश्रित आबादी वाले क्षेत्र में है। इन इलाकों में इंटेलीजेंस ब्यूरो (आइबी), स्थानीय अभिसूचना इकाई (एलआइयू) और स्टेट इंटेलीजेंस ब्यूरो (एसआइबी) समेत दूसरी खुफिया एजेंसी अपने-अपने स्तर पर इनपुट जुटा रही हैं। फूलपुर और करेली इलाके का आतंकियों से भी पुराना कनेक्शन रहा है और यहां बड़ी आबादी मिश्रित है।

आर्मी इंटेलीजेंस भी इनपुट जुटा रही, सादे ड्रेस में पुलिस मुस्‍तैद

मऊआइमा, नवाबगंज के अलावा पुराने शहर में खुल्दाबाद, चौक, अतरसुइया, दरियाबाद, शाहगंज इलाका भी पुलिस की नजर में काफी संवेदनशील है। इसे देखते हुए इन क्षेत्रों में कई पुलिस कर्मियों की ड्यूटी सादे ड्रेस में लगाई गई है। आर्मी इंटेलीजेंस भी अपने स्तर पर इनपुट जुटा रही है और जरूरी जानकारी पुलिस से साझा की जा रही है। एसएसपी के आदेश पर रात्रिकालीन गश्त और चेकिंग बढ़ा दी गई है। होटल और ढाबों पर आने वाले संदिग्ध व्यक्तियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। किसी भी हाल में जनपद की सुरक्षा और शांति को पुलिस प्रभावित नहीं होने देना चाहती है।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप