प्रयागराज, जागरण संवाददाता। स्मार्ट सिटी प्रयागराज में बने रेलवे ओवरब्रिज (आरओबी) और फ्लाईओवर के पिलर हरियाली का संदेश देंगे। नगर निगम इनके पिलरों पर वर्टिकल गार्डेन तैयार कराएगा। इसके लिए गाजियाबाद की एजेंसी बी ग्रीन टेक्नोलाजी सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड का चयन किया गया है। यह कंपनी 50 लाख रुपये में वर्टिकल गार्डेन तैयार करेगी। इन वर्टिकल गार्डेन के जरिए प्रयागराज सिटी को ग्रीन क्लीन मुहिम में आगे बढ़ाया जाएगा।

महाकुंभ 2025 में आए लोगों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने का प्रयास

पर्यावरण संरक्षण को लेकर पौधारोपण करने के साथ भी पेड़-पौधों की सुरक्षा पर जोर दिया जा रहा है। महाकुंभ-2025 में करोड़ों लोग प्रयागराज आएंगे। ऐसे में यहां से दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए आरओबी व फ्लाई ओवर पर वर्टिकल गार्डेन तैयार कराने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत हाई कोर्ट फ्लाई ओवर, चौफटका आरओबी, रामबाग आरओबी, बख्शीबांध आरओबी, एमएनएनआइटी आरओबी के पिलरों को वर्टिकल गार्डेन तैयार करने के लिए चिह्नित किया गया है। इन पिलर पर वर्टिकल गार्डेन तैयार होने पर लोगों को सुखद अहसास होगा। खासतौर पर टूरिस्ट और तीर्थयात्रियों को गुड फील कराने की तैयारी है।

चौफटका आरओबी के पिलर पर हरियाली की तैयारी

नगर निगम के चीफ इंजीनियर सतीश कुमार ने बताया कि महाकुंभ के पहले शहर के चौराहों, सड़कों के किनारे और पिलरों पर वर्टिकल गार्डेन तैयार किया जाएगा। सुभाष चौराहा पर वर्टिकल गार्डेन तैयार हो रहा है। इसके बाद चौफटका आरओबी के पिलरों पर तैयार किया जाएगा। इस तरह से प्रयास  यह हो रहा है कि स्मार्ट सिटी प्रयागराज को ग्रीन कवर देने की योजना के तहत वर्टिकल गार्डेन के जरिए शुरू किया जा सके।

Edited By: Ankur Tripathi