प्रयागराज, जेएनएन। ट्रेनों में बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए जीआरपी अपनी एस्कार्ट टीम के पेच कसने की तैयारी कर रही है। अधिकारियों की टीम ट्रेनों में अब औचक निरीक्षण करके यह देखेगी कि एस्कार्ट ने कोचों में सीटी बजाकर यात्रियों को जागरूक कर रही है या नहीं। इतना ही नहीं, यात्रियों से इसका फीडबैक भी लिया जाएगा। काम में लापरवाही बरतने वाली एस्कार्ट टीम के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

यात्रियों की शिकायत है कि सफर के दौरान कोच में एस्कार्ट नहीं दिखी

यात्रियों की सुरक्षा के लिए ट्रेनों में आरपीएफ और जीआरपी की एस्कार्ट टीम चलती है। जिस टे्रन में आरपीएफ की एस्कार्ट होती है, उसमें जीआरपी नहीं रहती है। यात्रियों की अक्सर शिकायत रहती है कि उनके कोच में सफर के दौरान एस्कार्ट टीम नहीं आई। जीआरपी ने यात्रियों की शिकायतों को गंभीरता से लिया है। अब ट्रेनों में अधिकारी औचक निरीक्षण करेंगे। यह देखेंगे कि एस्कार्ट टीम रात में कोच में घूम रही थी तो उसने सीटी बजाई या नहीं। अगर नहीं बजाई तो क्या कारण था। उसने कितने यात्रियों को जहरखुरानी के लिए जागरूक किया। सामान को सुरक्षित रखने के बारे में बताया।

बोले जीआरपी के सीओ अशोक कुमार सिंह

जीआरपी प्रयागराज के सीओ अशोक कुमार सिंह ने बताया कि औचक निरीक्षण से एस्कार्ट टीम मुस्तैद रहेगी। निरीक्षण में यह भी देखा जाएगा कि एसी कोच में अटेंडेंट के पास एस्कार्ट टीम का नंबर था कि नहीं। कहीं ऐसा तो नहीं था कि एस्कार्ट टीम एसी कोच से स्लीपर कोच में गई ही नहीं। लापरवाह एस्कार्ट टीम पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस