प्रयागराज, जेएनएन। उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ने जोन में सुरक्षित ट्रेन परिचालन से संबंधित कार्यो की समीक्षा की। इस दौरान वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से उन्होंने ट्रेनों की गति बढ़ाने के साथ संरक्षा से कोई समझौता नहीं किए जाने का निर्देश दिया। अधिकारियों को अन्‍य आवश्‍यक दिशा-निर्देश भी उन्‍होंने दिया।

माल लदान के नए अवसरों पर विमर्श किया

वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यालय के प्रमुख विभागाध्यक्षों और तीनों मंडलों के मंडल रेल प्रबंधकों के साथ महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने संरक्षा, माल लदान के नए अवसरों की तलाश के साथ नई दिल्ली-हावड़ा और नई दिल्ली-मुंबई मुख्य मार्ग पर गति 160 किमी तक बढ़ाने के लिए आवश्यक कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने लेवल क्रासिंग पर संरक्षा और बढ़ाने पर जोर दिया। कहा कि क्रासिंग पर सड़क की सतह में सुधार के साथ प्रकाश की व्यवस्था भी बेहतर की जाए। स्पीड ब्रेकर में मजबूत पाइप लगाए जाएं। कहा कि जहां बिजली नहीं है वहां सोलर लाइट के प्रबंध किए जाएं।

माल लोडिंग को बढ़ावा देने का दिया निर्देश

उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ने माल लोडिंग को बढ़ावा देने के लिए भावी ग्राहकों से निरंतर बातचीत करने की जरूरत पर बल दिया। वहीं नई दिल्ली से हावड़ा और मुंबई ट्रैक पर ट्रेनों की गति 160 तक करने के लिए कार्यो में तेजी लाने के निर्देश दिए।

सात दिन में क्रेट में 488 आवेदन

इलाहाबाद विश्वविद्यालय और संघटक महाविद्यालयों में संयुक्त शोध प्रवेश परीक्षा (क्रेट-2020) के लिए सात दिन में 488 लोगों ने आवेदन की प्रक्रिया पूरी कर ली। हालांकि, 1889 ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया। कुल मिलाकर विभिन्न पाठ्यक्रमों में 215740 ने रजिस्ट्रेशन कराया और 112671 ने अंतिम तौर पर फॉर्म सबमिट किया। प्रवेश प्रकोष्ठ के सदस्य डॉ. शैलेंद्र राय ने बताया कि आईपीएस में 2005, बीएलएलबी में 7270, एलएलबी में 12998, यूजीएटी में 62873, पीजीएटी में 17114, बीएड में 4245, एमएड में 1034, एमबीए में 1347, एलएलएम में 3297 में फॉर्म सबमिट किया है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस