प्रयागराज, जेएनएन। केपी कम्यूनिटी के शादी समारोह में आए लोगों ने कार सवार युवकों से कहासुनी के बाद हमला कर दिया था। आरोप है कि जमकर पीटा, कार तोड़ डाली और गोली मारने की नीयत से फायरिंग की। एसएसपी ने सूचना मिलते ही पुलिस बल भेजा। ठेकेदार समेत चार लोग गिरफ्तार कर दो राइफल समेत तीन लाइसेंसी असलहे जब्त कर लिए गए। कार में निधार्रित संख्या से ज्यादा शराब की बोतलें होने के कारण आबकारी एक्ट का भी मुकदमा दर्ज हुआ। प्रभाव और पहुंच का ही नतीजा है कि गिरफ्तार लोगों को इलाज के लिए बेली अस्पताल में भर्ती कर लिया गया।

रास्‍ते में खड़ी कार हटाने को लेकर विवाद हुआ

गिरफ्तार ठेकेदार हंडिया का मूल निवासी अखिलेश सिंह अलोपीबाग में रहता है। केपी कम्युनिटी में उसकी चचेरी बहन की गुरुवार की रात में शादी थी। रात करीब सवा एक बजे निकट के दूसरे गेस्ट हाउस में विवाह समारोह से कार में दोस्त क्रांति किशोर डिम्पल और ड्राइवर अमरदीप सोनकर के साथ चकिया लौट रहा शिवम द्विवेदी केपी कम्युनिटी के निकट पहुंचा तो सड़क पर इनोवा खड़ी थी। उसका आरोप है कि ड्राइवर ने कई बार हार्न बजाया तो पीछे से एक गाड़ी में चार लोग आए और राइफलों से हमला कर दिया। कार के आगे पीछे के कांच चूर कर दिए।

एक व्यक्ति ने गोली चलाई हालांकि वह बच गए

शिवम ने एफआइआर में आरोप लगाया है कि वह दोस्त समेत कार से उतरकर भागा तो पीछे से एक व्यक्ति ने गोली चला दी हालांकि वे बच गए। पिटाई से शिवम को चोट लगी। फोन पर सूचना मिलते ही एसएसपी ने अपनी टीम के साथ ही पुलिस फोर्स भेजी। मौके पर इनोवा कार और एक ऑडी कार समेत चार लोगों अखिलेश सिंह, अरंजय सिंह, आशुतोष सिंह और विजय कुमार यादव को गिरफ्तार कर लिया गया। थाना प्रभारी जार्जटाउन सुनील सिंह ने बताया कि दो राइफल और एक पिस्टल के साथ ही 69 कारतूस भी जब्त किए गए। कार में महंगी अंग्रेजी शराब की 17 बोतलें मिलीं। शिवम से तहरीर लेकर हत्या की कोशिश, तोडफ़ोड़, पिटाई की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

पहुंच वाले ठेकेदार को बेली में भर्ती कराया गया

बड़े और पहुंच वाले ठेकेदार परिवार का मामला होने के कारण रात से ही नेता और वकील पैरवी में लग गए। दूसरे दिन थाने में बैठे रहे चारों आरोपितों को बेली अस्पताल मेडिकल के लिए ले जाया गया तो डॉक्टर ने इलाज की जरूरत बताकर भर्ती करा दिया। दो सिपाही तैनात कर दिए गए।

दूसरे पक्ष का आरोप, छेडख़ानी कर रहे थे इसलिए किया हमला

दूसरे पक्ष की तरफ से भी थाने में तहरीर दी गई कि कार सवार युवकों ने केपी कम्युनिटी के बाहर निकली शादी वाले परिवार की महिलाओं से छेडख़ानी और छींटाकशी की थी। महिलाओं के शोर मचाने पर ही परिवार के लोगों ने विरोध किया तो मारपीट के बाद यह बखेड़ा हो गया। शिवम से समझौते की बात की जा रही है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस