प्रयागराज, जेएनएन। पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी की 86वीं जन्मतिथि समारोह में रविवार को कई दलों के नेता शरीक हुए। सभी ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष के स्वस्थ रहने व दीर्घायु होने की कामना की। इस अवसर पर केशरीनाथ त्रिपाठी ने कार्यकर्ताओं को संदेश भी दिया। कहा कि अपने आचरण को अनुकरणीय बनाएं। पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहाकि कभी पांव डगमगाए तो अंतर आत्मा की आवाज सुनिए और फिर निर्णय लीजिए।

केपी कम्यूनिटी हाल में अपनी जन्मतिथि पर आयोजित समारोह में अभिनंदन से अभिभूत केशरीनाथ त्रिपाठी ने कहा कि यह अवसर तीन कारणों से उनके लिए महत्वपूर्ण है। पहला अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ। दूसरा स्वामी वासुदेवानंद का कार्यक्रम में आकर आशीर्वाद देना और तीसरा पैगंबर मोहम्मद साहब की जन्मतिथि। यह भी कहा कि किसी को शतायु होने की शुभकामना के बजाए आयु पूर्ण करने की कामना करना ज्यादा श्रेयस्कर होता है।

अध्यक्षता करते हुए स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा कि केशरीनाथ त्रिपाठी समाज के लिए आदर्श हैैं। सपा के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य रेवती रमण सिंह ने केशरीनाथ को प्रयागराज का गौरव बताया। कहा कि राजनीति में पं. केशरी नाथ त्रिपाठी से बहुत कुछ सीखने को मिलता है। इलाहाबाद की सांसद डॉ रीता बहुगुणा जोशी ने केशरीनाथ को कवि, विधिवेत्ता, राजनीति का पुरोधा और साहित्य का मर्मज्ञ बताया। फूलपुर की सांसद केशरी देवी पटेल ने आदर्शवादी व्यक्तित्व बताते हुए शतायु होने की कामना की। शहर उत्तरी के विधायक हर्षवर्धन ने केशरीनाथ त्रिपाठी के कार्यों को सराहा।

पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह गौर, पूर्व मंत्री राकेश धर त्रिपाठी, एमएलसी डॉ. यज्ञदत्त शर्मा, विधायक अजय कुमार ने भी दीर्घायु की कामना की। महानगर अध्यक्ष अवधेश गुप्ता, पूर्व सांसद रमेश द्विवेदी, पूर्व विधायक डॉ. देवराज सिंह, शिवेंद्र मिश्रा, राजीव भारद्वाज, पदुम जायसवाल मौजूद रहे। पूर्व पार्षद विजय वैश्य ने चांदी का मुकुट पहनाकर केशरीनाथ का स्वागत किया। उधर, अतरसुइया में मानव एकता संघ की ओर से इरशाद अंसारी की अध्यक्षता में पूर्व राज्यपाल की जन्मतिथि मनाई गई।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप