जासं, इलाहाबाद : पूर्व सांसद अतीक अहमद के नाम पर हाईकोर्ट के समीक्षा अधिकारी शिरीष गुप्ता से 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। धूमनगंज पुलिस ने इस मामले में लखनऊ के नरेंद्र भाई व स्वप्निल शुक्ला के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के बाद जांच कर रही है।

धूमनगंज थाना क्षेत्र के प्रीतम नगर मुहल्ले में रहने वाले शिरीष गुप्ता इलाहाबाद हाईकोर्ट में समीक्षा अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं। वह मूलरूप से कानपुर के हंसपुरम आवास विकास कॉलोनी के निवासी हैं। शिरीष का आरोप है कि कुछ दिन पहले उनके पास एक नंबर से कॉल आई। फोन करने वाले ने खुद को अतीक अहमद का आदमी बताते हुए उनसे 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। इतना ही नहीं इसके बाद दो शख्स उनके मूल निवास स्थान पर भी पहुंचे और उन्होंने उनके घर की डोर वेल बजाई। जब शिरीष गुप्ता के पिता रविशंकर बाहर निकले तो उन्हें धक्का देते हुए कहा कि इलाहाबाद में भी बेटे का पता लगा लिया गया है। अगर अपनी जान प्यारी है तो चुपचाप 10 लाख रुपये लखनऊ में नरेंद्र भाई गुप्ता को पहुंचा दो। लगातार मिल रही धमकी से समीक्षा अधिकारी परेशान हुए तो उन्होंने धूमनगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। विवेचक दारोगा हर्षवीर सिंह का कहना है कि शिरीष की शादी लखनऊ में नरेंद्र भाई की बेटी से तय हुई थी। लेकिन कुछ कारणों से शादी टूट गई। इसी बीच स्वप्निल शुक्ला नामक शख्स ने फोन पर धमकाया। इसके बाद उनके मूल निवासी पर भी जाकर रंगदारी मांगी गई। फिलहाल प्रकरण की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप