प्रयागराज, जेएनएन। जिले में मंगलवार को कोरोना के आठ नए मरीज मिलने के साथ ही पॉजिटिव केस की संख्या सौ पहुंच गई है। जबकि 64 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। वहीं 33 मरीजों का अभी कोटवा सीएचसी और एसआरएन अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पांच अप्रैल को मिला था जिले में पहला मरीज

जिले में कोरोना का पहला मामला पांच अप्रैल को सामने आया था। लेकिन लोगों की सतर्कता और प्रशासन की सक्रियता के चलते इसका संक्रमण बहुत ही धीमी गति से बढ़ा। पहला मामला मिलने के करीब दो महीने बाद कोरोना मरीजों की संख्या 100 पहुंची है।

बाहर से आए लोगों में मिला कोरोना वायरस का संक्र‍मण

नोडल अधिकारी डॉॅ. ऋषि सहाय ने बताया कि मंगलवार शाम तक आई रिपोर्ट में 400 सैंपल निगेटिव जबकि आठ पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव मरीजों में अधिकांश दूसरे राज्यों से आए हैं। इसमें दो मरीज कौंधियारा के अटरी गांव के रहने वाले हैं। उसमें से एक मुंबई व दूसरा गाजियाबाद से आया था। वहीं झूंसी के देवनगर का रहने वाला 26 वर्षीय युवक 29 मई को नोएडा से आया था। इसी तरह अन्य मरीज प्रतापपुर के अमलवा कला, सरायममरेज, भारतगंज मांडा, मेजा के कोना व मांडा के खैरा गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने बताया कि मरीज मिलने की अपेक्षा ठीक होने वालों की दर तेज है। मंगलवार को भी ठीक होकर तीन मरीज घर भेजे गए। 

कोरोना की आशंका में पहुंचे 200 मरीज

मंगलवार को एसआरएन की ओपीडी में कोरोना की आशंका वाले 200 संदिग्ध मरीज पहुंचे थे। इसमें दो मरीजों में कोरोना के लक्षण मिलने पर अस्पताल के संदिग्ध वार्ड में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के नोडल डॉ. सुजीत कुमार वर्मा ने बताया कि सैंपल जांच के लिए भेजे गए है। वहीं अलग-अलग स्थानों से 219 संभावित लोगों की सैंपलिंग भी कराई गई।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस