प्रयागराज, जागरण संवाददाता। शारदीय नवरात्र अब निकट है। नवरात्र में आकर्षक पूजा पंडालों में मां दुर्गा की प्रतिमाएं स्‍थापित की जाती हैं। प्रतिमाओं के समक्ष पूजन-अर्चन, आरती के साथ ही अन्‍य रंगारंग आयोजन भी हाेते हैं। पूजा पंडालों की भव्‍यता व मां दुर्गा का दर्शन करने वाले भक्‍तों की देर रात तक भीड़ जुटती है। इस बार कुछ शर्तों के साथ दुर्गापूजा महोत्‍सव का आयोजन होगा। भक्‍तों को पूजा पंडालों में जाने की इजाजत तो होगी लेकिन कुछ शर्तों के साथ ही। आप भी जानें किन बातों का महोत्‍सव के दौरान ध्‍यान रखना होगा।

महोत्‍सव में कोविड-19 गाइडलाइन का पालन आवश्‍यक

कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए ही दुर्गापूजा महोत्‍सव मनाया जाएगा। बिना मास्क के कोई भी व्‍यक्ति दुर्गापूजा पंडाल में दाखिल नहीं हो पाएगा। पूजा पंडालों में पेयजल, बिजली, साफ-सफाई की व्यवस्था दुरुस्त होनी चाहिए। दुर्गा प्रतिमाओं की विसर्जन यात्रा अपने निर्धारित मार्गों से ही निकाली जा सकेगी। जुलूस को उसी रास्‍ते से ही जाने की अनुमति होगी।

दुर्गापूजा बारवारी व रामलीला कमेटियों की जिलाधिकारी संग बैठक

इस संबंध में प्रयागराज के कलेक्ट्रेट स्थित संगम सभागार में दुर्गापूजा बारवारी कमेटियों व रामलीला कमेटियों के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री और एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने बैठक की। इसमें कोविड-19 के तहत जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए दुर्गापूजा के आयोजन का निर्देश दिए गए। बिना मास्क के किसी को भी पूजा पंडाल में दाखिल न होने की बात कही गई है। साथ ही निर्धारित मार्गों से ही जुलूस निकालने और प्रतिमाओं के विसर्जन की बात कही गई।

जिलाधिकारी ने यह निर्दे‍श दिया

जिलाधिकारी ने कहा कि दुर्गापूजा पंडालों में भीड़ न एकत्र होने दें। सैनिटाइजर, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाए। उन्होंने मौजूद एसडीएम और सीओ को संयुक्त रूप से भ्रमण करके सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। पीस कमेटी आदि की बैठक समय से कराए जाने को कहा। कहा कि जहां पर भी पुराना विवाद रहा है, उसका निस्तारण करा लिया जाए। उन्होंने पूर्व में निर्धारित मार्गों के अनुसार ही जुलूस एवं प्रतिमाओं का विसर्जन कराए जाने के निर्देश दिए। संवेदनशील स्थानों का भी भ्रमण करने को कहा।

सीएमओ को भी निर्देश मिला

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को पर्याप्त मात्रा में एंबुलेंस एवं डाक्टरों की टीम की उपलब्धता कराए जाने के निर्देश दिए। विसर्जन स्थलों को चेक लिस्ट के अनुसार शहरी क्षेत्रों में नगर निगम और ग्रामीण क्षेत्रों में डीपीआरओ को देखने के लिए कहा। सभी पूजा पंडालों में राजस्व कर्मी के साथ पुलिस कर्मी की ड्यूटी लगाए जाने की बात कही। बिजली विभाग के अधिकारियों को तारों को दुरुस्त करने के साथ ही अन्य विभाग के अफसरों को पेयजल, साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के लिए निर्देशित किया।

Edited By: Brijesh Srivastava