प्रयागराज, जागरण संवाददाता। शुक्रवार को जबरदस्त वर्षा के बीच आसमान में कड़की बिजली से 493 स्मार्ट मीटरों के सेंसटिव रिले में तकनीकी खराबी आ गई। इससे इन घरों में बिजली गुल हो गई। शनिवार सुबह से तकनीकी टीम मीटरों को बदलने में लगी रही, लेकिन 30 फीसद ही मीटर बदले जा सके। जबकि अन्य उपभोक्ताओं की लाइन को सीधे केबल से जोड़कर आपूर्ति बहाल की गई है।

सबसे ज्यादा बमरौली, नैनी, रामबाग, कल्याणी देवी डिवीजन प्रभावित

बमरौली, नैनी, रामबाग, कल्याणी देवी डिवीजन में लगे स्मार्ट मीटर सबसे अधिक प्रभावित हुए। शुक्रवार रात जब अधिकारियों ने इन स्मार्ट मीटरों को देखा तो इसके सेंसटिव रिले में खराबी सामने आई। मीटर तक बिजली तो आ रही थी, लेकिन इसके आगे सप्लाई नहीं हो रही थी।

शनिवार सुबह मीटर विभाग की अलग-अलग टीमों ने जांच शुरू की। शाम तक 165 मीटर बदले गए थे। देर शाम मुख्य अभियंता विनोद गंगवार ने मीटर विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें जिन लोगों के घरों के स्मार्ट मीटर खराब हुए हैं, वहां रविवार दोपहर तक नया मीटर लगाने के निर्देश दिए।

शहर में सैकड़ों सेटअप बाक्स भी जले

बदलों की गर्जना से शहर में लगभग डेढ़ हजार से अधिक सेटअप बाक्स भी जल गए। शनिवार को बड़ी संख्या में लोग केबल आपरेटरों के पास अपने जले हुए सेटअप बाक्स को लेकर पहुंचे। केबल आपरेटर विशाल, राहुल गुप्ता का कहना है कि बादलों की गर्जना के कारण बड़ी संख्या में सेटअप बाक्स जले हैं।

Edited By: Ankur Tripathi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट