प्रयागराज, जेएनएन। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम शहर समेत ग्रामीण इलाकों में है। मध्य रात्रि में हर श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाने की दिन भर तैयारी जोरों पर रहीं। बाजार गुलजार हैं, जमकर खरीदारी हो रही है। जगह-जगह श्रीकृष्ण के जीवन से संबंधित झांकियों को अंतिम रूप दिया गया। वहीं दोपहर में इस्कान की ओर से शोभायात्रा निकाली गई। हरे रामा-हरे कृष्णा की धुन पर देशी के साथ विदेशी भक्त नाचते-गाते शामिल रहे। वहीं घरों से लेकर कन्हैया के मंदिरों तक उल्लास का माहौल है।

हरे कृष्‍णा, हरे रामा के साथ उत्‍साह के साथ नृत्‍य में भक्‍त हुए मग्‍न

इस्कॉन मंदिर की ओर से शुक्रवार को शहर में शोभायात्रा निकाली जाएगी। मंदिर में तीन दिनों तक विशेष कार्यक्रम भी निर्धारित कर लिए गए हैं। फल फूल, दूध, मक्खन व मिष्ठान वालों ने भी बिक्री में बूम आने के आसार के चलते तैयारियां पूरी कर ली हैं। शुद्ध दूध की मिठाइयां कुछ महंगी कर दी गई हैं। इस्कॉन, पुलिस लाइन और फायर ब्रिगेड समेत कुछ अन्य संस्थाओं की ओर से झांकियों को फाइनल टच दिया जा रहा है। इस्कॉन में भगवान को छप्पन भोग भी लगाया जाएगा।

मंदिरों और मठों में आयोजन की धूम

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के तहत बाजारों में रौनक है। भगवान के आकर्षक वस्त्र, सिंहासन, मोतियों से जड़े मुकुट, अन्य सजावटी सामान की खरीदारी चरम पर है। राधा-कृष्ण के मंदिर भी सज संवर उठे। वहीं काशीराज नगर बलुआघाट स्थित इस्कॉन मंदिर, तुलारामबाग स्थित रूप गौडिय़ामठ, श्री निंबार्क आश्रम, पुलिस लाइन, फायर ब्रिगेड, हटिया स्थित मुंशीराम की बगिया, श्री कुंज बिहारी जी अतिथि गृह, सुलेमसराय, प्रीतमनगर स्थित मंदिर व संस्थाओं में झांकियां सजाया गया है।

आठ करोड़ के व्यापार का अनुमान

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के लिए चौक, कटरा, कोठापारचा, सिविल लाइंस और सुलेम सराय बाजार में खूब ग्राहक उमड़े हैं। इस बार कई नए व आकर्षक आइटम आने से बाजार में बिक्री भी खूब हो रही है। प्रयागराज व्यापार मंडल के अध्यक्ष विजय अरोरा की मानें तो इस बार करीब आठ करोड़ रुपये का व्यापार होने का अनुमान है।

छप्पन भोग में यह रहेंगे खाद्य पदार्थ

-दूध से बने मिष्ठान आठ से 10 तरह के

-पूड़ी और कचौड़ी चार से पांच तरह की

-सब्जियां सूखी चार तरह की और रसेदार भी

-दही से बने चार से पांच तरह के आइटम

-कढ़ी, रायता, और तीन तरह की चटनी

-बेसन की तीन से चार तरह की पकौडिय़ां

-फलों के सलाद

कल्याणी देवी मंदिर में जन्‍माेत्‍सव की तैयारी

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाने के लिए विभिन्न मंदिरों सहित संस्थाओं ने अपने-अपने तरीके से तैयारी की है। शक्तिपीठ मां कल्याणी देवी मंदिर में शुक्रवार रात 12 बजे कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाएगा। यहां 28 अगस्त तक के कार्यक्रम निर्धारित किए गए हैं। मंदिर समिति के महामंत्री पं.श्याम जी पाठक के अनुसार मंदिर में झांकी का प्रदर्शन 23 से 28 अगस्त तक शाम छह से 11 बजे तक होगा।

श्रीकृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी कल भी

जन्‍माष्‍टमी का पर्व शनिवार को भी मनाया जाएगा। छत्रपति शिवाजी महाराज जनकल्याण समिति की ओर से चकनिरातुल चौफटका में श्याम सुंदर सिंह पटेल के आवास परिसर में भव्य झांकी सजाई जाएगी। यहां श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव 24 अगस्त को रात साढ़े आठ से 12 बजे जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। आनंद बिहारी जी महाराज मंदिर शाहगंज में जन्माष्टमी उत्सव शुक्रवार की रात आठ बजे से 12 बजे तक मनाया जाएगा। करैलाबाग में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मेला समिति की ओर से बालू मंडी में 24 और 25 अगस्त को मेला लगेगा।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप