प्रयागराज,जेएनएन : अवैध रूप से संचालित डेयरियों को शहरी क्षेत्र से बाहर विस्थापित करने के लिए नगर निगम अब बड़ी कार्रवाई करने जा रहा हैै। सड़कों पर घूमने वाले मवेशियों को अब नगर निगम प्रशासन पकडऩे के बाद उन्हें कांजी हाउस ले जाएगा। इसके बाद शंकरगढ़ स्थित कान्हा उपवन भेजा जाएगा। क्योंकि अब तक पशुपालक, डेयरी संचालक कांजी हाउस में जुर्माना भरकर मवेशी छुड़वा लाते थे। अब उन्हें शपथ पत्र भी देना होगा कि शहर में डेरी नहीं चलाएंगे। अगर डेयरी चलानी है तो उसे नैनी और फाफामऊ स्थित कैटल कालोनी में जाना होगा।

शहर में अवैध डेयरियों को लेकर उच्च न्यायालय नाराज है। पिछले दिनों न्यायालय ने नगर निगम को डेयरी संचालकों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। उसके बाद नगर निगम ने डेयरी संचालकों की अपडेट सूची बनाई। मम्फोर्डगंज, अल्लापुर, सोहबतियाबाग, तेलियरगंज, शिवकुटी, जार्ज टाउन, टैगोर टाउन, अशोक नगर समेत शहर के सभी मोहल्लों में कुल 708 डेयरियां संचालित हैं। अब उनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी है। नगर निगम की टीम मोहल्लों में जाकर मवेशियों को पकड़ेगी।

वहीं, नगर आयुक्त रवि रंजन का कहना है कि अब शहर में एक भी डेयरी संचालित नहीं होने दी जाएगी। डेयरी संचालन नैनी और फाफामऊ स्थित कैटल कॉलोनी में ही करना होगा। वहां उन्हें जो सुविधाएं चाहिए। वह भी उपलब्ध कराई जाएगी।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप